यूपी विधानसभा चुनाव 2022: नियमित सरकारी कर्मियों के बाद ही शिक्षामित्रों और अनुदेशकों की लगेगी चुनावी ड्यूटी

लखनऊ[राज्यब्यूरो]।विधानसभाचुनावमेंउत्तरप्रदेशकेशिक्षामित्रोंवअनुदेशकोंआदिकीड्यूटीतभीलगाईजाएगी,जबसभीनियमितसरकारीकार्मिकोंकोनिर्वाचनकार्यमेंलगादेनेकेबादभीकार्मिकोंकीजरूरतहोगी।मुख्यनिर्वाचनअधिकारीकार्यालयकेविशेषकार्याधिकारीनेइससंबंधमेंसभीजिलानिर्वाचनअधिकारियोंकोनिर्देशजारीकरदिएहैं।उधर,शिक्षामित्रसंघनेइसकाविरोधकियाहै।

विशेषकार्याधिकारीरमेशचंद्ररायनेजिलोंकोभेजेआदेशमेंलिखाहैकिविधानसभाचुनावमेंशिक्षामित्र,रोजगारसहायक,अनुदेशक,आंगनबाड़ीकार्मिकवअन्यसमकक्षकोमतदानकार्मिककेरूपमेंतैनातकरनेकेसंबंधमेंभारतनिर्वाचनआयोगनेनिर्देशजारीकिएहैं।उसमेंकहागयाहैकिऐसेकार्मिकोंकीड्यूटीसंबंधितजिलोंमेंकेवलउसीस्थितिमेंलगाईजाएगी,जबजिलेकीओरसेयहप्रमाणितकियाजाएकिमंडलीयपूलसेमिलेनियमितसरकारीकार्मिकोंकोपूरीतरहसेलगादियागयाहै।यहभीनिर्देशहैकिजहांतकसंभवहो,उक्तकार्मिकोंकोआरक्षितपूलमेंरखाजाए।जरूरतपड़नेपरशिक्षामित्रोंकोमतदानअधिकारीद्वितीयऔरअन्यकर्मियोंकोमतदानअधिकारीतृतीयकेरूपमेंलगायाजाएगा।

चुनावआयोगकेनिर्देशकाशिक्षामित्रसंघनेविरोधकियाहै।दूरस्थबीटीसीशिक्षकसंघप्रदेशअध्यक्षअनिलयादवनेकहाहैकिकेंद्रवराज्यचुनावआयोगकीओरसेशिक्षामित्रोंवअन्यसंविदाकर्मियोंकोचुनावड्यूटीमेंरिजर्वरखनाउनकेसाथउपेक्षापूर्णरवैयेकोदर्शाताहै।उन्होंनेकहाकिचुनावआयोगअपनेआदेशपरफिरसेविचारकरेंऔरपूर्वकेचुनावोंकीतरहविधानसभाचुनावमेंभीचुनावअधिकारीप्रथमकेपदपरशिक्षामित्रोंकीड्यूटीलगाईजाए।