यूपी चुनाव से पहले मायावती का बड़ा दांव, बसपा करेगी ब्राह्मण सम्मेलन, अयोध्या से होगा आगाज

बसपाका ब्राह्मणसम्मेलन 23जुलाईसेअयोध्यासेशुरूहोगा.23जुलाईकोसतीशचंद्रमिश्राअयोध्यामेंमंदिरदर्शनसेब्राह्मणोंकोजोड़नेकीकवायदशुरूकरेंगे.पहलेचरणमें23जुलाईसे29जुलाईतकलगातारछहजिलोंमेंब्राह्मणसम्मेलनहोंगे.सतीशचंद्रमिश्राकेनेतृत्वमेंजिलेवारयहसम्मेलनकिएजाएंगे.

इसपरभीक्लिककरें- बदलगईमायावतीकीरणनीति?मिशन-2022केलिएबसपाकासोशलइंजीनियरिंगकानयाफॉर्मूला!

बीएसपीका ब्राह्मणसम्मेलन2007केचुनावीअभियानकेतर्जपरहोगा.शुक्रवारकोलखनऊमेंपूरेप्रदेशसे200सेज्यादाब्राह्मणनेताऔरकार्यकर्ताबसपादफ्तरपहुंचेथेजहांआगेकीरणनीतिपरचर्चाहुईथी.बीएसपी 2007केफॉर्मूलेपरवापसलौटरहीहै. दलितब्राह्मणओबीसीइसफॉर्मूलेकेसाथमायावती2022चुनावमेंउतरेंगी.गौरतलबहैकिसाल 2007मेंमायावतीनेबड़ीसंख्यामेंब्राह्मणोंकोचुनावीमैदानमेंटिकटदेकरउताराथा.मायावतीकीयहरणनीतिसफलभीरहीथीऔरबीएसपीकी पूर्णबहुमतकीसरकारबनीथी.

बतादेंकि मायावतीने2007मेंयूपीकेचुनावमें403मेंसे206सीटेंजीतकरऔर30फीसदीवोटकेसाथसत्ताहासिलकरकेदेशकीसियासतमेंतहलकामचादियाथा.बसपा2007काप्रदर्शनकोईआकस्मिकनहींथाबल्किउसकेपीछेमायावतीकीसोचीसमझीरणनीतिथी.प्रत्याशियोंकीघोषणाचुनावसेलगभगएकसालपहलेहीकरदीगईथी.इसकेअलावाओबीसी,दलितों,ब्राह्मणों,औरमुसलमानोंकेसाथएकतालमेलबनायाथा.बसपाइसीफॉर्मूलेकोफिरसेजमीनपरउतारनेकीकवायदमेंहै.