टीकरी बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा, असामाजिक तत्वों से सख्ती से निपटने की तैयारी

बहादुरगढ़,जेएनएन।ट्रैक्टरपरेडकीहिंसाकेबादटीकरीबॉर्डरपरदिल्लीपुलिसनेसुरक्षाव्यवस्थाबढ़ादीहै।यहांपरइंटरनेटसेवाएंमंगलवाररातसेहीबंदहैं।अबयहांपरदिल्लीपुलिसकेसाथ-साथअर्धसैनिकबलोंकीज्यादासंख्यामेंतैनातीकरदीहै।दोनोंतरफसेबैरिकेडिंगदोबाराहोगईहै।दिल्लीपुलिसकीओरसेबैरिकेडिंगकोअबऔरमजबूतकियाजारहाहै।दिल्लीमेंफंसेट्रैक्टररातकोहीलौटआएथे।आंदोलनस्थलपर26नवंबरकोआएट्रैक्टर-ट्रालीयहीज्योंकेत्योंकेखड़ेहैं।

येट्रैक्टरट्रालीपरेडमेंशामिलनहींहुएथे।उधर,आंदोलनमेंइसतरहकीघटनाएंनाहोऔरआगेकीरणनीतिबनानेकेलिएसिंघुबॉर्डरपरआजकिसानोंकीबैठकहोगी।कुछदेरमेंटीकरीबॉर्डरपरकिसानोंकीओरसेसभाभीशुरूहोगी।बैठकऔरसभामेंपहलेतोट्रैक्टरपरेडकेदौरानहुईहिंसकघटनाओंकोलेकरविचार-विमर्शकियाजाएगा।

फिरकिसानोंकीओरसेएकफरवरीकोप्रस्तावितसंसदमार्चकोलेकरनिर्णयलियाजाएगा।किसाननेतापरगटसिंहकाकहनाहैकिवेसंसदमार्चजरूरनिकालेंगे।संसदमार्चकेदौरानइसतरहकीहिंसकघटनासेबचनेकेलिएकिसीउपाययारणनीतिकेसवालपरउन्होंनेबतायाकिआजकीबैठकमेंइसीविषयकोलेकरमंथनहोगा।वेट्रैक्टरपरेडकेदौरानहुईघटनाकीकड़ेशब्दोंमेंनिंदाकरतेहैं।

आंदोलनस्थलपरहालातसामान्य,मगरकिसानोंकीजुबांपरहिंसकघटनाकाजिक्र

उधर,ट्रैक्टरपरेडकेबादआंदोलनस्थलपरअबसबकुछसामान्यहै।हालांकिसभीकिसानोंमेंइसघटनाकोलेकरचर्चाहै।किसानोंनेदिल्लीसेआएअखबारोंकोभीपढ़करनिंदाकीहै।हरकिसानकीजुबानपरइसीहिंसकघटनाकीचर्चाहै।सभामेंयहींहिंसकघटनाकाहीचर्चाहोगा।किसानसरकारपरदोषमंढरहेहैं।

टीकरीबॉर्डरकोछोड़करसभीबॉर्डरपरयातायातसामान्य,मेट्रोसेवाभीसुचारू

टीकरीबॉर्डरकोछोड़करपहलेकीतरहयहांकेसभीबॉर्डरोंपरयातायातसेवाबहालहोगईहै।झाड़ौदाबॉर्डर,निजामपुरबॉर्डरसमेतआसपासकेगांवोंकेदिल्लीकीतरफजानेवालेसभीरास्तोंपरयातायातसेवासामान्यहै।मेट्रोसेवाभीसुचारूरूपसेचलरहीहै।ट्रैक्टरपरेडकेदौरानबहादुरगढ़समेतइसलाइनकेसभीमेट्रोस्टेशनबंदकरदिएगएथे।

तयसमयसेपहलेहटाएथेबैरिकेड,पहलेपैदलऔरबादमेंट्रैक्टरोंकोलेकरनिकलेथेकिसान

परेडमेंभागलेनेकेलिएकिसानोंमेंकाफीउत्सुकताथी।करीबनौबजेहीकिसानोंनेटीकरीबॉर्डरकेबैरिकेडहटादिएथे।हजारोंकीसंख्याकिसानपैदलहीदिल्लीकीतरफनिकलपड़ेथे।इसकेबादट्रैक्टरोंकेसाथकिसानोंनेपरेडशुरूकीथी।टीकरीबॉर्डरसेलेकरपूरेबहादुरगढ़शहर,बाईपासऔरकरीब20किलोमीटरतकएनएच-9परट्रैक्टरहीट्रैक्टरथे।यहांकेइनमार्गाेंपरपैररखनेतककीभीजगह नहींथी।यहांसेपरेडमेंशामिलकिसानोंनेनांगलोईमेंबैरिकेडतोड़दिएथे।इसीकेचलतेदिल्लीपुलिसनेउनपरआंसूगैसकेगोलेछोड़ेथे।किसानोंनेयहांपरजमकरउपद्रवकियाथा।हालांकिमामलाशांतहोनेकेबादकिसानवापसलौटगए।वापसीकायहसिलसिलादेरराततकचलतारहाथा।

हिसारऔरआस-पासकेजिलोंकीताजाखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें

हरियाणाकीताजाखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें

पंजाबकीताजाखबरेंपढ़नेकेलिएयहांक्लिककरें