तंदूर मामला : अदालत ने दिल्ली सरकार से सुशील शर्मा की रिहाई पर सवाल पूछा

नयीदिल्ली,14दिसंबर(भाषा)दिल्लीउच्चन्यायालयनेशुक्रवारकोशहरकीसरकारसेपूछाकियुवाकांग्रेसकेपूर्वनेतासुशीलकुमारशर्माको29सालकैदकीसजाकेबादरिहाक्योंनहींकियागया।सुशीलकुमारशर्मा1995मेंअपनीपत्नीनैनासाहनीकीहत्याकेमामलेमेंजेलकीसजाकाटरहाहै।इसमुद्देको“गंभीर”बतातेहुएअदालतनेदिल्लीसरकारकोनोटिसजारीकियाहैऔरइसमामलेमेंशर्माकीबंदीप्रत्यक्षीकरणयाचिकापरउसकापक्षमांगाहै।याचिकामेंइसआधारपरजेलसेरिहाकरनेकीमांगकीगईहैकिवह29सालसेजेलमेंबंदहैजिसमेंक्षमाकीअवधिभीशामिलहैऔरउसेलगातारबंदीबनाकररखाजानाअवैधहै।न्यायमूर्तिसिद्धार्थमृदुलऔरन्यायमूर्तिसंगीताढींगरासहगलकीपीठनेकानूनएवंन्यायमंत्रालयकेसचिवऔरगृहविभागकेसचिवसेसुनवाईकीअगलीतारीख,18दिसंबरकोअपनेसमक्षपेशहोनेकोकहाहै।उनसेसमयपूर्वरिहाईकेलिएसजासमीक्षाबोर्ड(एसआरबी)कोदिएगएशर्माकेआवेदनकेमूलदस्तावेजऔरउसेखारिजकरनेकेकारणोंकेसाथहाजिरहोनेकोकहागयाहै।पीठनेकहाकिकिसीव्यक्तिकीजिंदगीएवंआजादीपरविचारकरनासर्वोपरिहैऔरइसनेदिल्लीसरकारसेपूछाकिकिसीव्यक्तिको“अनिश्चितकाल”तककैसेहिरासतमेंरखाजासकताहै।शर्माकीयाचिकाकेमुताबिकसमयसेपूर्वरिहाईकेदिशा-निर्देशकहतेहैंकिएकअपराधकेलिएमिलीउम्रकैदकीसजाकेदोषियोंको20सालकीसजाकेबादऔरघृणितअपराधोंमें25सालकीसजाकेबादरिहाकरदियाजानाचाहिए।अब56सालकेहोचुकेशर्मानेपरपुरुषकेसाथअपनीपत्नीकेकथितसंबंधकोलेकर1995मेंगोलीमारकरउसकीहत्याकरदीथी।उसकेबादउसनेपत्नीकेशवकोटुकड़ोंमेंकाटकररेस्तरांकेतंदूरमेंजलानेकाप्रयासकियाथा।तंदूरहत्याकांडकेतौरपरजानाजानेवालायहमामलाभारतकेऐसेआपराधिकमामलोंमेंसेएकहैजिसमेंआरोपीकेदोषकोसाबितकरनेकेलिएडीएनएसाक्ष्यऔरदूसरीबारपोस्टमार्टमकरानेकासहारालियागयाथा।अपनीयाचिकामेंशर्मानेतर्कदियाकिजेलमेंऔरपैरोलपरबाहररहनेकेदौरानउसकाआचरण“अच्छा”रहाऔरउसनेकभीभीअपनीछूटकाअनुचितइस्तेमालनहींकिया।