सरकार की नीतियों के खिलाफ मुलाजिम आंदोलन दो से

जागरणसंवाददाता,पटियाला

दक्लासफोर्थगवर्नमेंटएंप्लाइजयूनियनपंजाबकेराज्यप्रधानदर्शनसिंहलुबानानेकहापंजाबकेसरकारीवअर्धसरकारीमहकमोंमेंपिछले10,15और20सालोंसेकार्यरतसवालाखसेअधिकवर्कचार्ज,टेंपरेरी,एडहाक,डेलीवेज,कांट्रेक्ट,पार्टटाइमऔरआउटसोर्समुलाजिमोंकोरेगुलरकरनेकीआशाकीकिरणभीखत्महोगईहै।अबविभागोंमेंपोस्टोंकोसमाप्तकरदियागयाहै।लुबानानेकहाकिराज्यसरकारकीनीतियोंकेविरोधमेंआगामीदोमार्चकोसामूहिकभूखहड़तालशुरूकीजारहीहैजो10मार्चतकचलेगी।

लुबानानेकहाकिनोटिफिकेशनमेंस्पष्टकरदियागयाहैकिमौजूदामौकेपरकार्यरततीसरा,चौथादर्जामुलाजिमोंकेसाथ-साथहैटेक्निकलमुलाजिमोंकोरिटायरकियाजाएगाऔरइनकीपोस्टोंकोभीखत्मकरनेसंबंधीविचारकियाजारहाहै।उन्होंनेकहाकिसरकारनेदोदर्जनमहकमोंकापुनर्गठनकरदियाहै।इसकेसाथरेगुलरहोनेकीआसमेंबैठेमुलाजिमोंऔरबेरोजगारोंकोसरकारनेचुनावीवर्षशुरूहोनेसेपहलेबड़ाझटकादियाहै।मुलाजिमोंकीबाकीमांगोंकोभीनजरअंदाजकरदियागयाहैजिसकारणराज्यकेछठेवेतनआयोगकीरिपोर्टभीलागूहोनेसेपिछड़गईहै।मुलाजिमनेतानेकहाकिसरकारनेअबअपनाआखिरीबजटविधानसभामेंआगामीपांचफरवरीकोपेशकरनाहै,परंतुमुलाजिमों,पेंशनरोंऔरकच्चेमुलाजिमोंकेसाथ-साथबेरोजगारोंकोसरकारसेबजटसेकोईआसनहींऔरइसीकारणअबउन्होंनेआंदोलनछेड़नेकाफैसलाकियाहै।