संसद तक को बिजली देने की जिम्मेदारी, लेकिन NDMC के बिजली विभाग में खाली हैं बड़ी संख्या में पद

नईदिल्ली[निहालसिंह]।राष्ट्रीयराजधानीमेंबसेसंसदभवनऔरराष्ट्रपतिभवनकोबिजलीपहुंचानेकीजिम्मेदारीनईदिल्लीनगरपालिकापरिषद(एनडीएमसी)कीहै,परहैरानीकीबातहैकिएनडीएमसीकेबिजलीविभागकेपासकर्मचारियोंकीभारीकिल्लतहै।आलमयहहैकिएश्रेणीमेंस्वीकृत99पदोंमेंसे90पदखालीपड़ेहैं।इसीतरहदूसरीश्रेणियोंमेंभीबड़ीसंख्यामेंपदखालीपड़ेहैं।इससेज्यादाहैरानीकीबातहैकिपांचसालमेंकेवल31पदोंकोभरनेकाप्रयासकियागयाहै।

सूचनाकेअधिकारअधिनियम(आरटीआइ)2005केतहतयहजानकारीप्राप्तहुईहै।आरटीआइआवेदनमेंविभिन्नविभागोंमेंखालीपड़ेपदोंसेसंबंधितजानकारीमांगीथी।एनडीएमसीकेइलेक्टिकएस्टेब्लिशमेंटयूनिट-1कीओरसेजानकारीदीगईजानकारीमेंबतायाहैकिएनडीएमसीकेइसविभागमें1652पदस्वीकृतहैं।इसमें602पदोंपरस्थायीनियुक्तिनहींहुईहै।इसकीवजहसेयेपदखालीपड़ेहैं।

वहीं,स्थायीनियुक्तिनहोनेकीवजहसेअनुबंधितकर्मचारियोंकीनियुक्तिकरनीपड़रहीहै।गश्रेणीमेंरिक्त452पदोंमें120पदोंकोअनुबंधितकेमाध्यमसेभरागयाहै।एनडीएमसीसेजबयहसवालपूछागयाकिइनपदोंकोभरनेमेंपांचसालमेंदिल्लीअधीनस्थसेवाचयनबोर्ड(डीएसएसबी)सेआग्रहकियागयाहै।तोएनडीएमसीनेबतायाकिकेवल31जूनियरइंजीनयरकेपदोंकोभरनेकेलिएछहअक्टूबर2020कोआवेदनभेजाथा।

दरअसल,एनडीएमसीकेपाससंसदभवन,राष्ट्रपतिभवनऔरदूतावासोंकोबिजलीउपलब्धकरानेकीजिम्मेदारीहै।एनडीएमसीकीओरसेइनभवनोंकोबिजलीकीआपूर्तिकीजातीहै।

हालांकिभवनोंकेअंदरबिजलीकीआपूर्तिसुचारुरहे,इसकाकामकेंद्रीयलोकनिर्माणविभाग(सीपीडब्ल्यूडी)देखताहै।ऐसेमेंविभागकेपासपर्याप्तकर्मचारियोंकानहोनालुटियंसदिल्लीकोस्मार्टसिटीबनानेकेसपनेपरपानीफेरसकताहै। एनडीएमसीक्षेत्रमेंराष्ट्रपतिऔरसंसदभवनकेसिवायबड़ीसंख्यामेंसांसद,मंत्रीऔरबड़े-बड़ेनौकरशाहरहतेहैं।ऐसेमेंएकमिनटकेलिएभीबिजलीआपूर्तिप्रभावितहोतीहैतोकर्मचारियोंकोवरिष्ठोंकीफटकारकाभीसामनाकरनापड़ताहै।