समर्थन मूल्य से 12 रुपये प्रति क्विटंल ज्यादा खरीदा गया बाजरा

जागरणसंवाददाता,तावडू:

प्रदेशसरकारद्वाराबाजरेकान्यूनतमसमर्थनमूल्य1950रखागयाहै,लेकिनफिरभीबाजरेकीउन्नतफसलकेकारणतावडूअनाजमंडीमेंकिसानचांद¨सहनिवासीसैदपुरखाइकाका70क्विटंलबाजराशहरकेआढ़तीवीरेंद्रकुमारझिवानियाकीआढ़तपरश्रीरामखादभंडारतावडूने1962रुपयेप्रतिक्विटंलकेहिसाबसेखरीदा।जोसमूचेसीजनमेंएककीर्तिमानहै।येपहलेव्यापारीद्वाराइतनेउंचेदामोंपरबाजरेकीखरीदहै।मंगलवारकोविधायकतेजपालतंवरनेउंचीखरीदपरकिसानचांद¨सहकोसम्मानितभीकिया।

इसमौकेपरकिसानचांद¨सहनेकहाकिइसबारप्रदेशसरकारनेबाजराकीफसलकोपूर्वकीअपेक्षाअच्छेदामोंपरखरीदाहै।ऐसेमेंसरकारकोकिसानोंकीअन्यफसलोंकेदामोंकोबढ़ानेपरभीध्यानदेनाचाहिए।उन्होंनेकहाकिदेशकीअर्थव्यवस्थामेंकिसानोंकाअहमयोगदानरहाहै।किसानोंकोउनकीफसलोंकाअच्छादाममिलताहै,तोवहउत्साहितहोकरअपनेकार्यकोकरताहै।किसानहीदेशकीजनताकेपेटकोपालरहाहै,लेकिनकईमौकोंपरकिसानोंकीउपेक्षाहोतीरहीहै।उन्होंनेकहाकिवहवर्तमानप्रदेशवकेंद्रसरकारसेउनकेहितोंकोलेकरकाफीउत्साहितहै।