श्रम सुधारों से जुड़े विधेयकों को लेकर राहुल का आरोप: मजदूरों पर वार किया गया

नयीदिल्ली,24सितंबर(भाषा)कांग्रेसकेपूर्वअध्यक्षराहुलगांधीनेसंसदसेपारितश्रमसुधारोंसेजुड़ेतीनविधेयकोंकोलेकरबृहस्पतिवारकोसरकारपरनिशानासाधाऔरआरोपलगायाकिकिसानोंकेबादमजदूरोंपरवारकियागयाहै।राज्यसभानेबुधवारकोउपजीविकाजन्यसुरक्षा,स्वास्थ्यऔरकार्यदशासंहिता2020,औद्योगिकसंबंधसंहिता2020औरसामाजिकसुरक्षासंहिता2020कोमंजूरीदी,जिनकेतहतकंपनियोंकोबंदकरनेकीबाधाएंखत्महोंगीऔरअधिकतम300कर्मचारियोंवालीकंपनियोंकोसरकारकीइजाजतकेबिनाकर्मचारियोंकोहटानेकीअनुमतिहोगी।लोकसभानेइनतीनोंविधेयकोंकोमंगलवारकोपारितकियाथाऔरअबइन्हेंराष्ट्रपतिकीमंजूरीकेलिएभेजाजाएगा।राहुलगांधीनेट्वीटकिया,‘‘किसानोंकेबादमज़दूरोंपरवार।ग़रीबोंकाशोषण,‘मित्रों’कापोषण।यहीहैबसमोदीजीकाशासन।’’इनविधेयकोंकोलेकरकांग्रेसमहासचिवप्रियंकागांधीवाद्रानेभीसरकारपरनिशानासाधा।उन्होंनेट्वीटकिया,‘‘इसकठिनसमयकीमांगहैकिकिसीकीनौकरीनजाए।सबकीआजीविकासुरक्षितरहे।भाजपासरकारकीप्राथमिकतादेखिए।सरकारअबऐसाकानूनलाईहैजिसमेंकर्मचारियोंकोनौकरीसेनिकालनाआसानहोगयाहै।वाहरेसरकार,आसानकरदियाअत्याचार।’’