शिकायत कैसी भी, चुप ही रहते हैं उम्मीदवार

जागरणसंवाददाता,जालंधर

दिलकुशामार्केटकेमांजगदंबेमेडिकोमेंदोपहरकाखानाखाकरहोलसेलदवाविक्रेताकुछपलखालीबैठेथे।इसदौरानशुरूहोगईचुनावीचर्चा।युवाउमेशकुमारढिगरासबसेपहलेबोलेकिसभीराजनीतिकपार्टियोंनेउम्मीदवारोंकीघोषणाकरदीहै।ज्यादातरनेतोनामांकनपत्रभीदाखिलकरदिएहैं।अबमाहौलगर्माएगाऔरमजाआएगा।उनकीबातचलहीरहीथीकिपुनीतगांधीबोलपड़ेकिअबचुनावप्रचारतेजहोगा।इसबारकोरोनाकेचलतेचुनावआयोगसख्तहैऔररैलियोंकासिलसिलाबंदहीरहेगा।घरघरवोटमांगनेकेलिएजानाउम्मीदवारोंकीमजबूरीबनगयाहै।सुबहहोतेहीकोईनकोईढोलबजातेपहुंचहीजाताहैऔरनींदखराबहोजातीहै।

होलसेलकेमिस्टआर्गेनाइजेशनकेसचिवसंजीवपुरीचुपनहींरहसके।पुनीतगांधीकीबातकाटतेहुएउन्होंनेकहाकिइनदिनोंतोवोटमांगनेकेलिएआनेवालेउम्मीदवारकोकोईभीशिकायतकरदो,वहचुपचापचुनलेताहैऔरसरकारआनेपरसमाधानकाआश्वासनदेकरकरआगेनिकलजाताहै।हालांकिपिछलेपांचसालमेंइलाकेकेविकासकोलेकरकीगईशिकायतोंकीसुनवाईआजतकनहींहुईहै।इसपरथोड़ामुस्करातेहुएअश्वनीकुमारनेजवाबदियाकिपांचसालबादहीलोगोंकोयहमौकामिलताहै।चुनावजीतनेकेबादतोउम्मीदवारईदकाचांदहोजातेहैं।घरजानेपरभीवहकिस्मतसेहीमिलतेहैं।परेशानहोकरलोगसमस्याओंकेबीचजीनेकीआदतडाललेतेहैं।वोटमांगनेकेलिएआनेवालाहरउम्मीदवारचुनावकेसमयलोगोंकोनएसपनेदिखारहाहै,जोबादमेंमुंगेरीलालकेहसीनसपनेबनकररहजातेहैं।उनकीबातसुनकरसभीखिलखिलाकरहंसपड़े।इतनेमेंअभिनंदनशर्माबोलेकिइनदिनोंहरकोईअपनी-अपनीडफलीबजारहाहै।ज्यादातरलोगोंकोभीइसबातकाअहसासहैकिचुनावकेबादवहीहालहोनेवालाहैजोपहलेहोताआयाहै,इसलिएअबलोगनिराशनहींहोते।केवलचुनावीमाहौलकामजालेतेहै।युवाविक्रांतपुरीमाहौलकोदेखतेरहे।अंतमेंवहबोलेकिमतदानसभीकोकरनाचाहिए।इतनेमेंदुकानपरदवालेनेकेलिएग्राहकआगयाऔरचर्चापरविरामलगगया।