शाह ने कहा कि अखिलेश यादव ने 403 में से 105 सीटे अपनी पार्टी कार्यकर्ताओं को न देकर कांग्रेस को सौंप दी है और इस तरह अपनी हार पहले ही मान ली है।

मुख्यमंत्रीअखिलेशकेइसतंजपरकीयूपीमेंतोअच्छेदिननहींआए,शाहनेकहा,यहकहकरअखिलेशनेस्वीकारकरलियाहैकिउनकीसरकारविफलरहीहै।पांचसालराज्यकरनेकेबादयहपूछनाकिअच्छेदिनकबआयेंगे,अपनीविफलतास्वीकारकरनाहै।यहकहतेहुएकिअखिलेशसरकारनेकेन्द्रसरकारकासहयोगनहींकिया,शाहनेकहा,11मार्चकोभाजपाकीसरकारबननेकेबादअच्छेदिनआजायेंगे।उन्होंनेकहा,केन्द्रसरकारनेउत्तरप्रदेशसरकारकोहरसालएकलाखकरोडरूपयेअधिकदिये।मगरउसकाउपयोगनहींहुआऔरकेन्द्रसरकारकीयोजनाओंकोठीकसेलागूनहींकियागया।बसपाकेबारेमेंउनकीरायपूछनेपरभाजपाअध्यक्षनेकहा,भ्रष्टाचारकेमामलेमेंसपा-बसपाएकदूसरेकाबचावकरतेहै।अखिलेशनेबसपाकेउननेताओंकेखिलाफक्याजांचकरवाई,जिनकेबारेमेंवहस्वयंभ्रष्टाचारकेआरोपलगातेरहेथे।मुस्लिमधर्मगुरूओंऔरसंगठनोंकीतरफसेविभिन्नदलोंकोघोषितकियेजारहेसमर्थनपरशाहनेकहा,इसकीवजहसेभाजपाकोकोईपरेशानीनहींहै,बल्कियहभाजपाविरोधीदलोंकीहताशाहै।