राफेल डील: SC के फैसले के बाद फ्रंटफुट पर बीजेपी, राहुल गांधी से माफी की मांग, जानिए क्या है पूरा मामला

नईदिल्ली:राफेलमुद्देपरकुछदिनपहलेतकफ्रंटफुटपरआकरकेंद्रसरकारपरनिशानासाधनेवालीकांग्रेससुप्रीमकोर्टकेफैसलेकेबादअबबैकफुटपरदिखाईदेरहीहै.दरअसलभारतऔरफ्रांसकेबीचहुएराफेलसौदेपरसवालउठानेवालीसभीयाचिकाओंकोसुप्रीमकोर्टनेशुक्रवारकोखारिजकरदिया.SCकेफैसलेकेबादअबबीजेपीएक्शनमेंआगईहै.पार्टीअध्यक्षअमितशाह1बजेप्रेसकॉन्फ्रेंसकरेंगे.वहींगृहमंत्रीराजनाथसिंहनेकहाहैकिहमेपहलेपताथाकिकोईघोटालानहींहुआऔरकांग्रेसकेवलराजनीतिकलाभकेलिएबेबुनियादआरोपलगरहीथी.बीजेपीनेकांग्रेसअध्यक्षराहुलगांधीसेमाफीमांगनेकीमांगकीहै.तो वहींविपक्षीपार्टियांअबभीडीलकोघोटालाबतातेहुएजेपीसीकीमांगपरअड़ीहै.

राफेलडीलदरअसलभारतऔरफ्रांससरकारोंकेबीच36लड़ाकूविमानोंकासौदाहैजो2016मेंतयहुईथा.कांग्रेसकाआरोपहैकियूपीएकीसरकारमें1राफेलकीकीमत600करोड़रूपयेथीलेकिनवहीकेंद्रकीबीजेपीसरकारमें1राफेलकीकीमतलगभग1600करोड़रुपयेहोगईहै.वहींकांग्रेसयहभीआरोपलगारहीहैकिइसडीलकेजरिएसरकारनेरिलायंसकंपनीकोफायदापहुंचाया.

सरकारकीतरफसेसफाई

सरकारकीतरफसेइसपूरेमामलेपरसफाईदीगईकियूपीएसरकारकेदौरानसिर्फविमानखरीदनातयहुआथा.इसकेस्पेयरपार्ट्स,हैंगर्स,ट्रेनिंगसिम्युलेटर्स,मिसाइलयाहथियारखरीदनेकाकोईप्रावधानउसमसौदेमेंशामिलनहींथा.मोदीसरकारनेजोडीलकीहैउसमेंइनसभीबातोंकोध्यानमेंरखागयाहै.साथहीकेंद्रसरकारनेकहाकिमोदीसरकारनेजोडीलकीहैउसमेंराफेलकेसाथमेटिओरऔरस्कैल्पजैसीदुनियाकीसबसेखतरनाकमिसाइलेंभीमिलेंगी.

फ्रांस्वाओलांदकाबयान

फ्रांसकेपूर्वराष्ट्रपतिफ्रांस्वाओलांदकाराफेलडीलपरदिएगएबयानसेमामलाऔरज्यादासियासीहोगयाथा.बतादेंकिइसीसालसितंबरमेंफ्रांस्वाओलांदनेकहाथाकिइसडीलकेलिएभारतसरकारकीतरफसेरिलायंसकेअलावाकिसीकंपनीकानामनहींसुझायागयाथा.उनकेपासएकनामकेअलावाकोईअन्यविकल्पनहींथा.बतादेंकिजिसवक्तयहसौदाहुआउससमयफ्रांसकेराष्ट्रपतिफ्रांस्वाओलांदथे.

कांग्रेससमेतअन्यराजनीतिकदलबीजेपीपरहुईहमलावर

फ्रांसवाओलांदकेइसबयानकेबादसेहीकांग्रेससमेतसभीराजनीतिकदलबीजेपीपरहमलावरहै.वहसरकारपरइसडीलमेंघोटालेकाआरोपलगारहीहै.कांग्रेससमेतसभीराजनीतिकदलइससौदेकोलेकरपीएममोदीपरझूठबोलनेकाआरोपलगारहीहै.राहुलगांधीकईबारअपनेभाषणमेंपीएममोदीकेलिए''चौकीदारचोरहै''जैसेशब्दोंकाइसितेमालकियाहै.

फ्रांसकेपूर्वराष्ट्रपतिफ्रांस्वाओलांदकाबयानसामनेआतेहीराहुलगांधीनेकेंद्रसरकारपरपलटवारकियाथा.उन्होंनेप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीपरआरोपलगातेहुएलिखाकि,"पीएमनेहीराफेलडीलमेंबदलावकियाथा.फ्रांस्वाओलांदकाधन्यवाद.अबहमेंपताचलगयाहैकिपीएमनेदिवालियाहोचुकेअनिलअंबानीकोअरबोंडॉलरकीयेडीलदिलाई."

कोर्टनेसभीयाचिकाएंकीखारिज

कोर्टमेंवकीलएमएलशर्मा,विनीतढांडा,पूर्वकेंद्रीयमंत्रीयशवंतसिन्हा,अरुणशौरी,वकीलप्रशांतभूषणऔरआपसांसदसंजयसिंहनेयाचिकाएंदाखिलकी.सबनेविमानसौदेमेंकमियांगिनाईं,तयप्रक्रियाकापालननकरने,पारदर्शिताकीकमी,ज़्यादाकीमतदेकरकमविमानलेनेजैसेसवालउठाएऔरभ्रष्टाचारकाभीअंदेशाजताया.खासतौरपरभारतमेंफ्रेंचकंपनीदसॉल्टकाऑफसेटपार्टनररिलायंसकोबनाएजानेपरसवालउठाएगए.कहागयाकिसरकारीकंपनीहिंदुस्तानएयरोनॉटिक्सलिमिटेड(HAL)कोदरकिनारकररिलायंसकोफायदापहुंचानेकेलिएपहलेसेचलरहीडीलकोरद्दकरनयासमझौताकियागया.

क्याकहासुप्रीमकोर्टने

सुप्रीमकोर्टनेआजकहाकिफ्रांससे36राफेललड़ाकूविमानोंकीखरीदीमेंनिर्णयलेनेकीप्रक्रियापरसंदेहकरनेकाकोईकारणनहींहै.चीफजस्टिसरंजनगोगोईकीअध्यक्षतावालीपीठनेकहाकिलड़ाकूविमानोंकीजरूरतहैऔरदेशइनविमानोंकेबगैरनहींरहसकताहै.तीनसदस्यीयपीठकीतरफसेफैसलापढ़तेहुएसीजेआईगोगोईनेकहाकिलड़ाकूविमानोंकीखरीदकीप्रक्रियामेंहस्तक्षेपकरनेकाकोईकारणनहींहै.

फैसलेपरकांग्रेसकीप्रतिक्रिया

राफेलडीलपरसुनवाईकेलिएSCसहीमंचनहींहैसचकेवलजेपीसीजांचसेहीसामनेआएगा.हालांकिउन्होंनेकहाकिवहSCकेफैसलेकास्वागतकरतीहै.