पूर्वी दिल्ली निगमकर्मियों के वेतन के लिए 119 करोड़ मंजूर : मनीष सिसोदिया

दिल्लीकेउपमुख्यमंत्रीमनीषसिसोदिया(फाइलफोटो)

पूर्वीदिल्लीनगरनिगम(ईडीएमसी)केकर्मचारियोंकीहड़तालखत्मकरानेकेमकसदसेदिल्लीकेउपमुख्यमंत्रीमनीषसिसोदियानेरविवारको119करोड़रुपयेअग्रिमराशिकेतौरपरस्वीकृतकिएजानेकीघोषणाकी.साथहीनिगमपरभ्रष्टाचारकरधनबर्बादकरनेऔरकर्मचारियोंकोवेतनकेलिएतरसानेकाआरोपलगाया.

उन्होंनेभाजपाशासितनिगमसेआग्रहकियाकिवहइसपैसेकाउपयोगसख्तीकेसाथसिर्फअपनेकर्मचारियोंकेलंबितवेतनभुगतानकेलिएकरे,ताकिउन्हेंहड़तालकरनेकीनौबतनआए.सिसोदियादिल्लीसरकारकेवित्तविभागकाभीदायित्वसंभालरहेहैं.

उन्होंनेकहा,'119करोड़रुपयेकीयहराशिएकमाहबादपुनरीक्षितआकलनमिलनेकेबादजारीकीजानीथी,लेकिनसरकारनेपूर्वीदिल्लीसफाईकर्मियोंकावेतनभुगतानकेलिएइसेपहलेहीहस्तांतरितकरनेकानिर्णयलिया,ताकिहड़तालखत्महोऔरअपनेनाकारेपनकोछिपाकरसरकारकोजिम्मेदारठहरानेकीभाजपाकीचालएकबारफिरनाकामहोजाए.'

उपमुख्यमंत्रीनेकहाकिदिल्लीसरकारनेगैरयोजनामदमेंवित्तवर्ष2015-2016केलिएउसकेपहलेकेवर्षमेंमिलेधनकीतुलनामेंदोगुनाधनदिया.ईडीएमसीकोवर्ष2012-13मेंदिल्लीसरकारसे399करोड़रुपयेमिले,2013-14में441करोड़मिले.हमनेइसेबढ़ाकर2015-16में702करोड़रुपयेकिया.वित्तवर्ष2016-17मेंहमपहलेही609करोड़रुपयेजारीकरचुकेहैं.

सिसोदियानेसवालकिया,'इतनापर्याप्तधनआवंटितकिएजानेकेबावजूदनिगमअपनेकर्मचारियोंकोवेतनक्योंनहींदेरहाहै?यदिवेइससेपहले300-400करोड़रुपयेमेंहीवेतनदेनेकाइंतजामकरलेरहेथेतोयहकैसेसंभवहैकिअब700करोड़रुपयेमेंभीइंतजामनहींकरपारहेहैं?आखिरपैसाकहांजारहाहै?'

पूर्वीदिल्लीनगरनिगमके25हजारसेभीअधिककर्मचारीपिछलेदोमाहसेवेतननहींमिलनेकेकारणगुरुवारसेहीहड़तालपरहैं.निगमकीसारीसेवाओंपरविरामलगगयाहै.जगह-जगहकूड़ेकेढेरलगगएहैं.सिसोदियानेकहाकिनिगमनेदिल्लीउच्चन्यायालयकेआदेशकोनमानकरउसकीअवमाननाकीहै.