पंचेश्वर बांध से पहाड़ का विकास नहीं, होगा विनाश : तिवारी

जागरणसंवाददाता,बागेश्वर:उत्तराखंडपरिवर्तनपार्टीकेकेंद्रीयअध्यक्षपीसीतिवारीनेकहाकिहिमालयकोबचानेकीशपथलेनेवालीसरकारकोपहलेपंचेश्वरजैसेबड़ेबांधकाविरोधकरनाचाहिए।उन्होंनेमोदीसरकारकीनोटबंदीकोपूरीतरहअसफलबताया।

यहांस्थानीयहोटलमेंपत्रकारवार्तामेंउपपाकेकेंद्रीयअध्यक्षपीसीतिवारीनेबतायाकिवहपंचेश्वरबांधकाविरोधकरतेहै।यहपहाड़केविकासकेलिएनहींविनाशकेलिएबनायाजारहाहै।उन्होंनेकहापंचेश्वरबांधकेनामपरविस्थापितहोनेवालेपरिवारोंकेसाथखिलवाड़कियाजारहाहै।सरकारकीजनसुनवाईकेकार्यक्रमोंसेउसकीनियतकासाफपताचलगयाहै।बोलनेवालोंकोबैठकोंसेबाहरकियाजारहाहै।पार्टीबांधकाविरोधकरतीहै।इसकेलिएव्यापकरणनीतिबनाकरचरणबद्धतरीकेसेआंदोलनकियाजाएगा।उन्होंनेसभीकार्यकर्ताओंसेइसकेलिएएकजुटहोनेकीअपीलकी।उन्होंनेभाजपाकीकेंद्रसरकारपरभीहमलाबोला।उन्होंनेकहाकिकेंद्रसरकारकीनोटबंदीकाकार्यक्रमपूरीतरहफेलहोगया।कालेधनकेनामपरजोजनताकेसाथउन्होंनेधोखाकियावहसबसामनेआगयाहै।मोदीजीजनताकेबताएकितनाकालाधनवापसआया।तिवारीनेगौरीलंकेशकीहत्याकी¨नदाकी।उन्होंनेकहाकिगौरीलंकेशकीहत्यालोकतंत्रकीहत्याहै।अभिव्यक्तिकीआजादीकाखूनहै।जिसकेखिलाफसंघर्षजरूरीहै।

इसदौरानगोकुलचंद्रजोशी,हरीशडालाकोटी,ठाकुर¨सहपरिहार,दयाकृष्ण,दिनेशलोहनीआदिमौजूदथे।