पंचायत चुनाव की आहट से प्रधानों में बेचैनी

लखीमपुर:चुनावमेंविजयीहोनेकेबादअधिकांशग्रामप्रधानगांवकेविकासकीगतिबढ़ानेकेलिएसजगनहींदिखेथे।अबसाढ़ेचारसालबीतजानेकेबादजबफिरचुनावकीआहटसुनाईदेनेलगीहैतोइन्हेगांवकेविकासकीचितासतानेलगीहै।कुछगांवोंमेंतोतेजीसेकामभीशुरूहोगएहैं।2015मेंपंचायतचुनावजीतकरप्रधानबनेअधिकांशलोगकुंभकर्णीनींदसोरहेथेऔरगांवकेविकासकीओररत्तीभरध्याननहींदिया।केवलविकासकेनामपरगांवोंमेंआनेवालीयोजनाओंकेअंतर्गतमिलेधनकादुरुपयोगकरतेरहे।गांवोंमेंबजबजारहीनालियोंकीभीसफाईपरध्याननहींदियागया।टूटीपड़ीनालियोंवखड़ंजोंकीमरम्मतभीनहींकराईगई।परअबपंचायतचुनावकीसंभाविततिथिघोषितहोनेसेखासकरमौजूदाग्रामप्रधानोंमेंबेचैनीबढ़गईहै।आरक्षणमेंकौनसीटहोगीइसकाभीअतापतानहींहैलेकिन,फिरभीकहींसीटछिननजाएइसकोलेकरगोटबिछानीशुरूकरदीगईहै।चुनावहोनेकीसंभावनाकेबादविकासकापहियागांवोंमेंघूमनेलगाहै।गांवमेंटूटीवगंदगीसेभरीपड़ीनालियों,खराबपड़ेखड़ंजोंकीमरम्मतकराईजारहीहै।कहींसार्वजनिकशौचालयोंकानिर्माणहोरहाहैतोकहींपंचायतघरकानिर्माणचालूहै।प्रधानोंमेंजहांछटपटाहटबढ़गईहैवहींप्रधानीकेसंभावितउम्मीदवारभीमतदाताओंकोप्रलोभनदेनेमेंलगगएहैं।पंचायतचुनावकीसंभावनासेगांवमेंहोनेवालेकामोंमेंतेजीआगईहै।जागरणनेग्रामीणइलाकोंमेंइसकीपड़तालकीतोग्रामीणोंनेबतायाकिबेसहारापशुओंसेहमलोगबहुतपरेशानहैं।ऐसेमेंवोलोगग्रामप्रधानसेलेकरखंडविकासअधिकारीसेगुहारकरचुकेहैंलेकिन,अभीतकउन्हेंकेवलआश्वासनहीमिलसकाहै।