PM फसल बीमा योजना में हो रहा हर साल 15 से 20 हजार करोड़ रुपए का घोटाला, गुजरात कांग्रेस ने लगाए आरोप; हाईकोर्ट समिति से जांच की मांग

सरकारपरबड़ेपैमानेपरभ्रष्टाचारकाआरोपलगातेहुएविधानसभामेंविपक्षकेनेतापरेशधनाणीनेकहा,‘येसच्चाईसबकोपताहैकिसाल2016मेंयहांलागूकीगईपीएमफसलबीमायोजनानेकिसानोंकोलूटाहै।इसमेंकिसान2से5फीसदीबीमाप्रीमियमकाभुगतानकरतेहैंऔरराज्यसरकारफसलबीमाकंपनियोंकोपचासफीसदीप्रीमियमकाभुगतानकरतीहै।इतनेअधिकप्रीमियमकेबादभीकिसानोंकोबीमेकाभुगतानकरनेयाबीमाकंपनियोंकेआंकड़ोंकाकोईरिकॉर्डनहींहै।इससेसाबितहोताहैकिकेंद्रऔरनिजीकंपनियोंकेसाथराज्यसरकारनेभीजनताकापैसालूटनेमेंसाजिशरची।हमनेपहलेभीसाबितकियाहैकिइसयोजनाकेतहतहरसाल15-20करोड़रुपएकाभ्रष्टाचारहोताहै।’

धनाणीनेआगेकहा,‘हमसरकारसेमांगकरतेहैंकिपिछलेचारसालोंमेंहरसीजनमेंफसलकटाईकीकुलउपजऔरवास्तविकउपजकेआंकड़ेसार्वजनिककिएजाएं।इसकेसाथहीपिछलेचारसालोंकेबीमादस्तावेजऔरआंकड़ोंकाभुगतानकियाजाए।हमयेभीमांगकरतेहैंकिमामलेमेंनिष्पक्षजांचकेलिएगुजरातहाईकोर्टएकसमितिकागठनकरे।’

वहींसरकारकीनईयोजना‘मुख्यमंत्रीकिसानसहाययोजना’कीआलोचनाकरतेहुएगुजरातकांग्रेसकमेटीकेपूर्वअध्यक्षअर्जुनमोढवाडियानेकहाकिभाजपाकेनेतृत्ववालीराज्यसरकारनेकिसानोंकोएकनयालॉलीपॉपदियाहै।उन्होंनेकहा,‘नईयोजनाकेतहतकिसानोंको33से60फीसदीफसलनुकसानकेलिएमददमिलेगीऔरसर्वेक्षणसरकारीअधिकारियोंद्वाराकियाजाएगा।येयोजनाकिसानोंकेलिएएकनयालॉलीपॉपहैऔरहममांगकरतेहैंकिगुजरातमेंबीमाकंपनियोंद्वाराइकट्ठाप्रीमियमपरCAGद्वाराऑडिटकियाजाए।’

दूसरीतरफअंतर्राष्ट्रीयहिंदूपरिषदकेकेसंस्थापकडॉक्टरप्रवीणतोगड़ियानेसरकारकीनईयोजनाकास्वागतकियाहै।हालांकिदोबिंदुओंपरउन्होंनेराज्यसरकारकीआलोचनाभीकी।उन्होंनेकहाकिसरकारकोइसकाखंडनकरनाचाहिएकिभारीबारिशकीघोषणातबहीकीजाएगीजब48घंटोंमें25इंचवर्षाहोऔर28दिनतकबारिशनाहोनेपरसूखा।इसयोजनामेंजंगलीजानवरोंऔरमवेशियोंकेकारणफसलहानि,नहरकेटूटनेऔरअन्यकारणोंकोभीशामिलकरनाचाहिए।