पेट्रोल डीजल पर अतिरिक्त एवं विशेष उत्पाद शुल्क को और घटाए केंद्र: गहलोत

जयपुर,छहअक्टूबर(भाषा)राजस्थानकेमुख्यमंत्रीअशोकगहलोतनेशनिवारकोकहाकिकेंद्रसरकारकोपेट्रोल,डीजलएवंगैसपरसेअतिरिक्तउत्पादशुल्क,विशेषउत्पादशुल्कतथाउपकरमेंऔरअधिककमीकरनीचाहिएजिससेराज्योंकावैटसंग्रहणस्वतःउसीअनुपातमेंकमहोजायेगा।गहलोतकायहबयानमुख्यविपक्षीदलभाजपाकीइसमांगपरआयाहैकिराज्यसरकारोंकोपेट्रोलएवंडीजलपरवैटघटानाचाहिए।गहलोतनेयहांएकबयानमेंकहा,‘‘मेरासुझावहैकिपेट्रोल/डीजल/गैससेअतिरिक्तउत्पादशुल्क,विशेषउत्पादशुल्कऔरउपकरकेरूपमेंजोराजस्वकेन्द्रसरकारइकठ्ठाकररहीहै,उसपरराज्यसरकारेंवैटलगातीहैं,इसलिएकेन्द्रसरकारकोमहंगाईकोदेखतेहुएउसमेंऔरअधिककमीकरनीचाहिये,जिससेराज्योंकावैटसंग्रहणस्वतःउसीअनुपातमेंकमहोजायेगा।’’उन्होंनेकहा,‘‘जैसापांचरूपयेपेट्रोलएवं10रूपयेडीजलकादामकमकरनेकीघोषणाकेसाथहीराजस्थानराज्यको1800करोड़रूपयेकाराजस्वकमहोजायेगा।यहज्ञातव्यहैकिइसवर्षकेबजटकेवक्तराज्यसरकारद्वारादोप्रतिशतवैटकमकरदेनेकेकारण1000करोडरूपयेकाराजस्वनुकसानहोचुकाहै।इसप्रकार2800करोड़रूपयेकाकुलराजस्वकमहोगा।’’मुख्यमंत्रीनेकहा,‘‘हमकेन्द्रसरकारसेलगातारपेट्रोल/डीजलकीकीमतोंपरनियंत्रणएवंकमीकरनेकाआग्रहकरतेरहेहैं।अभीचारनवम्बरकोकेन्द्रसरकारकेउत्पादशुल्ककोकमकरनेकेनिर्णयसेराज्यकावैटभीस्वतःपेट्रोलपर1.8रूपयेप्रतिलीटरतथाडीजलपर2.6रूपयेप्रतिलीटरकमहोगया।इसकमीसेराज्यकोवैटराजस्वमें1800करोड़रूपयेप्रतिवर्षकीहानिहुईहै।’’उन्होंनेकहाकिसाथहीकेन्द्रसरकारसेआग्रहहैकिवहतेलकम्पनियोंकोपाबन्दकरे,जिससेपेट्रोल/डीजलकेदामोंमेंरोज-रोजहोनेवालीवृद्धिपरलगामलगे,अन्यथापूर्वकीभांतिदीपावलीकेबादपांचराज्योंकेचुनावकेबादकुछहीदिनोंमेंऑयलकम्पनियांकीमतबढ़ाकरकेन्द्रएवंराज्यसरकारकीओरसेदीगईराहतकालाभशून्यकरदेंगी।मुख्यमंत्रीनेबयानमेंप्रधानमंत्रीसेआग्रहकियाहै,‘‘उत्पादशुल्कसेजोहिस्सासभीराज्यसरकारोंकोमिलताथा,वहकेन्द्रसरकारनेपहलेसेहीकमकरदियाहै।साथहीपहलेसेहीकोरोनाकीस्थितिकेकारणराज्योंकेराजस्वमेंभारीकमीआगयीहैऔरराजस्थानराज्यकाजीएसटीक्षतिपूर्तिकरीब5963करोडकेन्द्रसरकारद्वाराभुगतानकियाजानाबाकीहै।’’उल्लेखनीयहैकिराज्यमेंभाजपामांगकररहीहैकिकेंद्रसरकारद्वारापेट्रोलडीजलकेउत्पादशुल्कमेंहालहीमेंकीगईकमीकेबादराज्यसरकारवैटभीकमकरे।