पाकिस्तान नहीं चाहता बरादर करे नई अफगान सरकार का नेतृत्व, जानिए क्या है इसके पीछे की मंशा

काबुल,एएनआइ।पाकिस्ताननहींचाहताहैकिअब्दुलगनीबरादरअफगानिस्तानकीनईसरकारकानेतृत्वकरे।पूर्वअफगानमहिलासांसदकाकहनाहैकिपाकिस्तानकेखुफियाप्रमुखलेफ्टिनेंटजनरलफैजहमीदयहसुनिश्चितकरनेकेलिएकाबुलपहुंचेहैकिनईसरकारकीकमानहक्कानीगुटकेहाथमेंहो।अफगानिस्तानमेंनईसरकारकेगठनकोलेकरचलरहीहलचलकेबीचफैजहमीदशनिवारकोअचानकअफगानिस्तानपहुंचेहैं।इससेयहसाफहोगयाहैकिपाकिस्ताननईसरकारमेंअपनादखलचाहताहै।हक्कानीनेटवर्कऔरआइएसआइकेबीतगहरेसंबंधहैं।

अफगानिस्तानकीसंसदकीसदस्यमरियमसोलेमानखिलनेट्वीटकिया,'मैंजोसुनरहीहूं,उसकेमुताबिकआइएसआइकेडीजीकाबुलइसलिएआएहैंताकियहसुनिश्चितहोसकेकिबरादरकेहाथमेंइससरकारकानेतृत्वनाजाएऔरहक्कानीकोइसकीकमानमिलजाए।उन्होंनेयहभीबतायाकिसरकारगठनकोलेकरतालिबानगुटोंऔरतालिबानकेसह-संस्थापकमुल्लाबरादरकेबीचकाफीअसहमतिहै।इसकेसाथहीबरादरनेअपनेसभीलोगोंकोपंजशीरपरहमलाकरनेसेरोकदियाहै।

अफगानिस्तानपरतालिबानकेकब्जेकेबादऐसीखबरेंथींकिमुल्लाबरादरअफगानिस्तानमेंआगामीसरकारकानेतृत्वकरेंगे,लेकिनअबमतभेदकीखबरेंआरहीहैं।नईसरकारकाऐलानलगातारटलताजारहाहै।उधर,फैजहमीदऐसेसमयमेंकाबुलपहुंचेहै,जहांएकतरफपंजशीरघाटीमेंभारीलड़ाईचलरहीहैऔरदूसरीतरफतालिबाननईसरकारकेगठनकीतैयारकररहाहै।पाकिस्तानचाहताहैकिसरकारकेमहत्वपूर्णपदहक्कानीनेटवर्ककोमिले,जिससेकीवहअफगानिस्तानमेंअपनेहितोंकोसाधसके।

पाकिस्तानकेपत्रकारहमजाअजहरसलामनेकहाकिहमीददोनोंदेशोंकेभविष्यपरचर्चाकरनेकेलिएतालिबानकेनिमंत्रणपरअफगानिस्तानकादौराकररहेहैं।उन्होंनेट्वीटकिया,'डीजीआइएसआइ,लेफ्टिनेंटजनरलफैजहमीदतालिबानकेनिमंत्रणपरपाकिस्तानीअधिकारियोंकेएकप्रतिनिधिमंडलकेसाथकाबुलपहुंचेहैंताकिनईतालिबानसरकारकेतहतपाकिस्तानऔरअफगानिस्तानकेसंबंधोंकेभविष्यपरचर्चाकीजासके।