ओडिशा-आंध्र प्रदेश सीमा विवाद: राशन, भत्ता, इलाज सब आंध्र से तो वोट भी वहीं

भुवनेश्वर,शेषनाथराय।ओडिशाऔरआंध्रप्रदेशसरकारकेबीचचलरहासीमाविवादकोईनयानहींहै।वर्ष1968सेयहतनातनीचलरहीहै।सुप्रीमकोर्टनेयथास्थितिबनाएरखनेकेलिएकहातोओडिशासरकारगांवहीनहींग्रामीणोंकोभीभूलगई।सालोंसेकीजारहीउपेक्षाकानतीजाअबसामनेआयातोओडिशासरकारकोसुप्रीमकोर्टपहुंचकरगुहारलगानापड़रहीहै।58गांवोंमेंसेएकजुमाड़गांवकेलोगोंकाकहनाहैकिहमाराघरभलेहीओडिशामेंहै,मगरहमेंदिनचर्याकीसारीसुविधाएंआंध्रप्रदेशसेमिलतीहै।

राशन,भत्ता,पानीयहांतककिकोरोनाकेसमयसहायताभीआंध्रसरकारनेमुहैयाकरवाईथी।खेतीसेलेकरबाजारतकहरकार्यकेलिएहमपड़ोसीसरकारपरनिर्भरहैं।वहांसेआधारकार्ड,वोटरकार्डजैसेपरिचयपत्रभीहमेंमिलेहैं।जहांसेसुविधाएंमिलरहीहैउसकोवोटक्योंनदें?

ओडिशासरकारकेखिलाफलगीयाचिका:

इसमामलेकोलेकरओडिशासरकारकेखिलाफएकयाचिकाहाईकोर्टमेंलगीहै।भारतीयविकासपरिषदकेअध्यक्षसुरेंद्रपाणीग्रहीयाचिकामेंआरोपलगायाहैकिप्रदेशके58गांवकेग्रामीणोंकोवृद्धावविधवाभत्ताएवंराशननमिलनाओडिशासरकारकीबड़ीलापरवाहीहै।गंजाम,कोरापुट,गजपतिजिलेकेग्रामीणयहअवहेलनाबरसोंसेङोलरहेहैं।अबजबआंध्रसरकारमतदातापरिचयपत्रबंटवाकरचुनावकरानेकीतैयारियांकरवारहाहै,तबओडिशासरकारकीनींदखुलीहै।

1936मेंसीमानिर्धारितकरओडिशाप्रदेशकाहुआथागठन

वर्ष1936मेंसीमानिर्धारितकरओडिशाप्रदेशकागठनहुआथा।वर्ष1955मेंसीमाकमेटीबैठनेकेबादआंध्रप्रदेशबना।ऐसेमेंसीमांतगांवकोलेकरविवादउपजनेसेवर्ष1968मेंओडिशासरकारनेसुप्रीमकोर्टकादरवाजाखटखटायाथा।उससमयसुप्रीमकोर्टनेतत्कालीनस्थितिबनाएरखनेकानिर्देशदियाथा।यदिकुछसमस्याहोतीहैतोफिरआपसमेंमिलबैठकरसमाधानतलाशनेकेलिएभीकहाथा।हालांकिबार-बारआंध्रप्रदेशइसक्षेत्रमेंप्रवेशकरविवादितपरिस्थितिउत्पन्नकररहाहै।

वकीलबोले-पंचायतमेंयथास्थितिकाआदेश

इधर,ओडिशासरकारनेआंध्रप्रदेशसरकारपरअदालतकीअवमाननाकाआरोपलगातेहुएसुप्रीमकोर्टकादरवाजाखटखटायाहै।कोटियामेंआंध्रप्रदेशद्वारापंचायतचुनावप्रसंगपरशुक्रवारकोसुनवाईहोगी।ओडिशासरकारकीतरफसेवकीलशिवशंकरमिश्रनेमामलादायरकियाहै।उन्होंनेकहाहैकिवर्ष1968मेंसीमाविवादकीसुनवाईकरसुप्रीमकोर्टनेयथास्थितिरखनेकोकहाथा।तभीसेकोटियापंचायतओडिशामेंहैमगरअबइसकाउल्लंघनकरआंध्रप्रदेशराज्यचुनावआयोगकीतरफसेकोटियाकेतीनपंचायतमेंचुनावकरानेकेलिएविज्ञप्तिप्रकाशितकीगईहै।चुनाव13से17फरवरीकेबीचहोनाहै।अबशुक्रवारकोसुप्रीमकोर्टमेंहोनेवालीसुनवाईकेबादतयहोगाकिग्रामीणआंध्रप्रदेशकेचुनावमेंशामिलहोपाएंगेयानहीं।

2019मेंहुआथाकरारनामा

इसविवादकेबीचवर्ष2019मेंआमचुनावसेपहलेदोनोंआंध्रएवंओडिशासरकारकीतरफसेदोनोंजिलोंकेजिलाधीशकीबैठकहुई।इसबैठकमेंआंध्रप्रदेशकीतरफसेओडिशामेंकोईबूथनाबनाएजानेएवंओडिशाकेलोगोंकोअपनामतदातानाबनानेकोलेकरकरारहुआथा।एडवोकेटमिश्रकाआरोपलगायाकिआंध्रप्रदेशसरकारइसकरारनामेकाउल्लंघनकररहाहैएवंपंचायतचुनावकरानेकीप्रक्रियाजारीरखीहै।ओडिशाकीसीमापरबसाकोटियागांव,जहांग्रामीणोंकोमिलाआंध्रप्रदेशकावोटरकार्ड।