नई शिक्षा नीति के तहत हो रही पहली एग्जाम पर पड़ेगा असर, जानें वजह

इंदौरमेंएकलाखस्टूडेंटपरेशानीमेंपड़सकतेहैं।इसकाकारणआगामीदिनोंमेंहोनेवालेजिलापंचायतऔरनगरीयनिकायकेचुनावहैं।देवीअहिल्यायूनिवर्सिटीजून-जुलाईमहीनेमेंनईशिक्षानीतिकेतहतविभिन्नकोर्सेसकीएग्जामकरानेवालीहैं।ऐसेमेंहोसकताहैकिएग्जामकीतारीखोंपरचुनावकाअसरदेखनेकोमिले।क्योंकिचुनावमेंयूनिवर्सिटीकेकईकर्मचारियोंकीड्यूटीलगजातीहै,तोकईजगहकॉलेजोंकोभीचुनावकेदौरानमतदानकेंद्रबनादियाजाताहै।इसकारणसेएग्जामदेनेवालेस्टूडेंटपरचुनावकाअसरहोसकताहै।हालांकियूनिवर्सिटीमैनेजमेंटसाल्यूशननिकालरहीहै।यूनिवर्सिटीकेअधिकारियोंनेचर्चाभीकीजिसमेंकईजरुरीनिर्णयभीलिएहै।इसकेआधारपरहीआगेकीएग्जामकराईजाएगी।

पीजीटाइम-टेबलजारी,यूजीकाइंतजार

नईशिक्षानीतिकेतहतफर्स्टईयरकीएग्जामपहलीबारहोनेजारहीहै।इसएग्जामकोलेकरयूनिवर्सिटीमैनेजमेंटपहलेहीपरेशानहोचुकाहै।अबचुनावनेयूनिवर्सिटीकीदिक्कतोंकोबढ़ादियाहै।यूजीकीबातकरेंतोफर्स्टईयरकेतमामकोर्सबीए,बीकाम,बीबीए,बीसीए,बीएचएससी,बीजेएमसीवअन्यकोर्सेसकीएग्जामहोनाहै।जल्दहीइनएग्जामकाटाइम-टेबलघोषितहोनेवालाहै।वहींदूसरीतरफपीजीकेसेकंडवफोर्थसेमेस्टरकेस्टूडेंटकीएग्जामआगामीदिनोंसेशुरूहोनेवालीहै।इसमेंएमए,एमकाम,एमएससी,एमबीएकीएग्जामहै।इनएग्जामकाटाइम-टेबलयूनिवर्सिटीजारीकरचुकीहै।

एकलाखसेज्यादास्टूडेंटपरअसर

देवीअहिल्याविविकेएग्जामकंट्रोलरडॉ.अशेषतिवारीकेमुताबिकफर्स्टईयरकेविभिन्नकोर्सेसकेमिलाकरलगभग80हजारस्टूडेंटहैं,जोइसबारएग्जाममेंशामिलहोंगे।वहींपीजीकीबातकरेंतोपीजीकेफोर्थऔरसेकंडसेमेस्टरमेंकरीब30हजारस्टूडेंटहै।इसप्रकार1लाखसेज्यादास्टूडेंटहै।आगामीदिनोंमेंहोनेवालेचुनावोंकाअसरस्टूडेंटकीएग्जामपरपड़सकताहै।क्योंकिकईबारयूनिवर्सिटीकेकर्मचारियोंकीड्यूटीचुनावमेंलगजातीहै।कईबारकॉलेजोंकोचुनावकेलिएलेलियाजाताहै।

अधिकारियोंनेबनायाप्लान

डीएवीवीकेरजिस्ट्रारडॉ.अनिलशर्माकेमुताबिकआगामीदिनोंमेंनईशिक्षानीतिकेतहतपहलीबारफर्स्टईयरकेस्टूडेंटकीएग्जामशुरूहोनेवालाहै।प्लानिंगहैकि21जूनसेइनकीएग्जामशुरूहोगी।स्टूडेंटकीएग्जामचुनावकेकारणलेटनहोइसबातकाभीध्यानरखाजारहाहै।ऐसाहोसकताहैकिएग्जामवालेदिनचुनावकेकारणहमएग्जामनकरासके।ऐसेमेंउसदिनएग्जामनकराकरआगेएग्जामकराईजाएगी।विविकीकोशिशहैकिटाइम-टेबलभीकुछइसप्रकारसेसेटकरनेकाप्रयासकियाजारहाहैकिस्टूडेंटकीएग्जाममेंपरेशाननहो।बावजूदइसकेकोईदिक्कतआतीहैकोउसदिनकीएग्जाममेंबदलावकियाजासकताहै।फिलहालएग्जामकाटाइम-टेबलतैयारकियाजारहाहै।