मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा महायज्ञ को लेकर निकली कलश यात्रा

सारण।पैगम्बरपुरगांवमेंसर्वदेवप्राणप्रतिष्ठामहायज्ञकाशुभारंभसोमवारसेहोगयाहै।जिसकेकलशस्थापनाकेलिएसैकड़ोंकीसंख्यामेंमहिलापुरुषश्रद्धालुओंनेजलभरीकोलेकलशयात्रानिकाली।गाजेबाजेकेसाथजयश्रीरामकेजयघोषकरतेसैकड़ोंकीसंख्यामेंकलशयात्रामेंशामिलश्रद्धालुपैगम्बरपुररामजानकीमन्दिरसेचलकरपै़गम्बरपुरपोखरापासपहुंचे।जहांवैदिकमंत्रोच्चारकेबीचजलभरीकीगई।जलभरीकोलेनिकलीकलशयात्रामेंआसपासकेगांवोंकेलोगभीशामिलहुए।इसदौरानभक्तोंकीभीड़कोनियंत्रितकरनेकेलिएग्रामीणस्वयंसेवकसहितस्थानीयप्रशासनकोकाफीमशक्कतकरनीपड़ी।बतायागयाहैकीअन्ययज्ञोंकेअपेक्षाइसयज्ञमेंभक्तोंकाजनसैलाबअप्रत्याशितदिखा।ज्ञातहोकिउक्तमंदिरसेकरोड़ोंकीअष्टधातुकीबनीभगवानराम,जानकीतथालक्ष्मणकीप्रतिमाकीचोरीहोनेकेबादपुलिसद्वाराबरामदकियागया।इसकेबादवैधानिकऔपचारिकताओंकोपूराकरसभीप्रतिमाओंकोवापसलायागया।उन्हींप्रतिमाकीदोबारास्थापितकरनेवप्राणप्रतिष्ठाकोलेयहांपांचदिवसीयभव्यसर्वदेवप्राणप्रतिष्ठामहायज्ञकाआयोजनकियागयाहै।यज्ञसंरक्षकसंतदामोदरजीमहाराजसहितविद्वानआचार्योंद्वारावैदिकमंत्रोचारणकेसाथयज्ञकाशुभारंभकियाजाचुकाहै।यज्ञमेंहजारोंकीसख्यामेंभीड़उमरपड़ी।भक्तोंद्वारारामजानकीमंदिरपरिसरसेलेकरपूरामोहल्लेकाभ्रमणकरशिवमंदिरपोखरामेंजलभरीकीगई।यज्ञसमितिकेअध्यक्षविजयकुमारपाण्डेय,संचालकनवलकिशोरकुशवाहा,अध्यक्षकृष्णमुरारीप्रसाद,उमेश्वरप्रसाद,निर्मलकुमार,सुरेन्द्रप्रसाद,मुन्नासाहू,रामकुमारआदिनेबतायाकियज्ञमेंदेशकेप्रसिद्धविद्वानोंद्वाराभगवतकथासुनायाजाएगा।

कलशयात्रामेंमहिलाचोरोंकीचांदी

संसू,बनियापुर:सर्वदेवमूर्तिप्राणप्रतिष्ठामहायज्ञकोलेनिकलीभव्यकलशयात्रामेंउमड़ीलोगोंकीभीड़सेजहांकुछलोगोंकोपरेशानीहुई।वहींसोनेकेजेवरपहनकरसजधजकरनिकलीमहिलाश्रद्धालुओंकीभीड़काफायदाउठानेपहुंचीमहिलाचोरोंकीचांदीकटी।महिलाचोरोंनेकईमहिलाओंकेजेवरपरहांथसाफकरलिया।जिसमेंएकमहिलाकाजेवरस्थानीयग्रामीणोंकेसहयोगसेबरामदकरलियागया।संदेहकेआधारपरआरोपितमहिलाकोपकड़करलोगोंनेपुलिसकेहवालेकिया।पुलिसहिरासतमेंलीगईमहिलासेपुलिसपूछताछकररहीहै।