मंच साझा करेंगे मायावती और अखिलेश, उभर सकते हैं नये सियासी समीकरण

लखनऊ|उत्तरप्रदेशकेहालमेंसम्पन्नविधानसभाचुनावमेंकरारीशिकस्तकेबादबदलीसूरतेहालमेंसमाजवादीपार्टी(सपा)औरबहुजनसमाजपार्टी(बसपा)आगामीअगस्तमेंपटनामेंहोनेवालीराष्ट्रीयजनतादल:राजद:प्रमुखलालूप्रसादयादवकीरैलीमेंमंचसाझाकरनयीसंभावनाओंकीइबारतलिखतीनजरआएंगी.

राजदकीउत्तरप्रदेशइकाईकेअध्यक्षअशोकसिंहनेआज‘पीटीआई-भाषा’कोबतायाकिसपाअध्यक्षअखिलेशयादवऔरबसपामुखियामायावतीनेआगामी27अगस्तकोपटनामेंआयोजितहोनेवालीलालूकीरैलीमेंशिरकतपररजामंदीदेदीहै.राजदप्रमुखलालूनेइनदोनोंनेताओंकोइसरैलीमेंशामिलहोनेकेलियेहालमेंफोनभीकियाथा.सिंहनेबतायाकिसपासंस्थापकमुलायमसिंहयादवकोभीरैलीमेंलानेकीकोशिशेंकीजारहीहैं.

वर्ष1993मेंप्रदेशमेंमिलकरसरकारबनानेवालीसपाऔरबसपाकेबीचदूरियांचर्चित‘गेस्टहाउसकाण्ड’केबादइसकदरबढ़गयींकिउन्हेंएकनदीकेदोकिनारोंकीसंज्ञादीजानेलगी.मानाजानेलगाकिअबयेदोनोंदलएक-दूसरेसेकभीहाथनहींमिलाएंगे,लेकिनइसेसियासीतकाजाकहें,याफिरसमयकाफेर,इनदोनोंदलोंकेनेताअबमंचसाझाकरनेकोतैयारहोगयेहैं.

सपाऔरबसपाकेएकमंचपरसाथआनेकोराजनीतिकहलकोंमेंसूबेकीराजनीतिकेएकनयेदौरकेउभारकेरूपमेंदेखाजारहाहै.खासकरवर्ष2014केलोकसभाचुनावऔर2017केविधानसभाचुनावमेंभाजपाकेहाथोंकरारीशिकस्तनेइनदोनोंदलोंकोसाथआनेकेबारेमेंसोचनेपरमजबूरकियाहै.

सिंहनेबतायाकिअगस्तमेंहोनेवालीरैलीमेंकांग्रेसअध्यक्षसोनियागांधीकेभीशिरकतकरनेकीसंभावनाहै.उन्होंनेबतायाकिराजदप्रमुखलालूनेतृणमूलकांग्रेसअध्यक्षममताबनर्जी,बीजूजनतादलकेप्रमुखनवीनपटनायक,राष्ट्रवादीकांग्रेसपार्टीमुखियाशरदपवारतथासमानविचारधारावालेअन्यदलोंकेनेताओंकोभीरैलीमेंशिरकतकेलियेआमंत्रितकियाहै.द्रमुकनेताएम.के.स्टालिनइसरैलीमेंहिस्सालेनेकेलियेपहलेहीरजामंदीदेचुकेहैं.

सिंहनेबतायाकिइसकवायदकामकसदबिहारकीतर्जपरराष्ट्रीयस्तरपरभाजपाकेखिलाफमजबूतमहागठबंधनकोखड़ाकरनाहै.राजनीतिकप्रेक्षकोंकेमुताबिकराजनीतिकलिहाजसेबेहदसंवेदनशीलउत्तरप्रदेशमेंसपाऔरबसपाअगरएकसाथआतीहैंतोयहसूबेमेंभाजपाकेअप्रत्याशितउभारकोरोकनेकीदिशामेंकारगरहोसकताहै.

बसपाहालकेविधानसभाचुनावमेंकुल403मेंसेमात्र19सीटेंहीजीतसकीथी.वर्ष1992केबादयहउसकासबसेखराबप्रदर्शनहै.तबउसे12सीटेंहासिलहुईथीं.वर्ष2012केविधानसभाचुनावमेंबसपाने80सीटेंजीतीथीं.वहीं,सपाभीइसबारमहज47सीटोंपरसिमटगयी,जोउसकाअबतककासबसेखराबप्रदर्शनहै.

पिछलेविधानसभाचुनावमेंसपाकावोटप्रतिशत21.8था,वहींबसपाका22.2प्रतिशतरहाथा.बसपानेजहांसभी403सीटोंपरचुनावलड़ाथा,वहींसपानेअपनेसहयोगीदलकांग्रेसकेलिये105सीटेंछोड़ीथीं.इसविधानसभाचुनावमेंभाजपाऔरउसकेसहयोगीदलोंकेकुल403मेंसे325सीटेंजीतलेनेसेविपक्षबेहदकमजोरहोगयाहै.ऐसेमेंसपाऔरबसपाकेगठबंधनकेस्वरतेजहोगयेहैं.