महिलाओं को दी गई कानून की जानकारी

जागरणसंवाददाता,दुमका:राष्ट्रीयमहिलाआयोगवविधिकसेवाप्राधिकारकेसंयुक्तनिर्देशपरसोमवारकोन्यायसदनमेंमहिलाओंकोकानूनकेप्रतिजागरूककरनेकेलिएआंगनबाड़ीसेविका,सहायिका,पोषणसखीवशिक्षिकाओंकोप्रशिक्षणदियागया।प्राधिकारकेसचिवविश्वनाथभगतनेकहाकिसंविधानमेंमहिलाओंकोपुरुषकेबराबरकादर्जाहै।महिलाकोपिताकीपैतृकसंपत्तिमेंभीअधिकारदियागयाहै।अधिवक्ताशर्मिलासिन्हावप्रीतिकुमारीनेबालविवाहप्रतिषेधअधिनियम2006,घरेलूहिसासेमहिलाओंकीसुरक्षाअधिनियम,महिलाओंकेसाथछेड़छाड़सेसंबंधितअपराध,लिगजांचरोकनेकेकानून,महिलाओंसेसंबंधितअन्यअपराधवसुरक्षाकरनेवालेकानूनकीजानकारीदी।बतायाकियौनउत्पीड़न,मानवव्यापार,अपहरणवअपराधमेंकानूनकाप्रावधानहै।

अगरकिसीभीमहिलाकेसाथकुछभीगलतहोताहैतोवहचुपबैठनेकीबजायआवाजउठाए।कानूनकीओरसेहरसंभवसहायताप्रदानकीजाएगी।