महिलाएं जागृत होंगी तभी समाज आगे बढ़ेगा : आलोक

लोहरदगा:भंडराप्रखंडकेअकाशीगांवमेंबुधवारकोमहिलामंडलोंकीबैठकहुई।जिसमेंमुख्यअतिथिकेरूपमेंउपस्थितकांग्रेसकेकार्यवाहकजिलाध्यक्षआलोककुमारसाहूनेमहिलासंगठनोंकेविकासऔरअन्यमुद्दोंपरचर्चाकी।उन्होंनेकहाकिभंडराप्रखंडकेआकाशीमें14महिलासंगठनसंगठितहोकरआजीविकामहिलाग्रामसंगठनकागठनकियागयाहै।जिससेआत्मनिर्भरताकोएकनईदिशामिलपारहीहै।महिलाएंजागृतहोंगीतभीसमाजआगेबढ़ेगा।महिलाएंसमाजकोआगेबढ़ानेमेंअपनाबेहतरसहयोगदेरहीं।अबउन्हेंअन्यमहिलाओंकोभीजागरूककरतेहुएसमाजकेविकासमेंसहभागीबनानेकीजरूरतहै।महिलाएंकिसीभीक्षेत्रमेंपुरूषोंसेपीछेनहींहैं,बसउन्हेंप्रोत्साहनदेनेकीजरूरतहै।पूरेक्षेत्रमेंमहिलाएंअपनेअधिकारकेलिएजागृतहोरहींहैं।उन्होंनेकहाकिमहिलाओंकोशिक्षाकेक्षेत्रमेंविशेषध्यानदेनेकीजरूरतहैमहिलाएंशिक्षितहोंगीतभीपूरापरिवारशिक्षतहोगा।इसकेसाथहीसाथमहिलाओंकोकुप्रथाओंवअंधविश्वाससेबाहरनिकलनेकीजरूरतपरजोरदिया।इससेपूर्वआलोकसाहुनेआजीविकामहिलाग्रामसंगठनकेकार्यालयकाफीताकाटकरशुभारंभकिया।मौकेपरसाधुउरांव,कुणालअभिषेक,विजयचौहान,रंजनउरांव,अभिषेकचौहान,जयमनीउरांव,रेखादेवी,वाईदेवी,गौल्यादेवी,प्रमिलाउरांव,सूरजमनीउरांव,सुषमाउरांव,रंथीउरांव,रोपतीटोप्पो,रणविजयनाथशाह,विनोदउरांव,बिरसाउरांव,मनोरंजनउरांवसहितअन्यग्रामीणमौजूदथे।