Maharashtra Political Crisis: कांग्रेस-एनसीपी से बातचीत की कमान अब उद्धव ठाकरे ने संभाली

राज्यब्यूरो,मुंबई।राज्यमेंराष्ट्रपतिशासनलागूहोनेकेबादशिवसेनाअध्यक्षउद्धवठाकरेनेकांग्रेस-राकांपा(NCP)केसाथमिलकरसरकारबनानेकेलिएबातचीतकीकमानखुदसंभाललीहै।इसीक्रममेंमंगलवारदेररातवहकांग्रेसकेवरिष्ठनेताअहमदपटेलसेमिलेऔरबुधवारदोपहरबादउनकीमुलाकातएकपांचसिताराहोटलमेंप्रदेशकांग्रेसकेवरिष्ठनेताओंसेहुई।तीनोंदलजल्दहीसरकारबनानेकेलिएकिसीनिष्कर्षपरपहुंचनेकादावाकररहेहैं।

प्रदेशकांग्रेसअध्यक्षबालासाहबथोरात,पूर्वमुख्यमंत्रीअशोकचह्वाणऔरपूर्वप्रदेशअध्यक्षमाणिकरावठाकरेसेबांद्रा-कुर्लाकांप्लेक्सस्थितट्राइडेंटहोटलमेंकरीब45मिनटकीमुलाकातकेबादउद्धवठाकरेनेप्रेससेबातकरतेहुएकहाकिकांग्रेस-एनसीपीकेसाथउनकीबातचीतउचितदिशामेंआगेबढ़रहीहै।उचितसमयपरइसकीजानकारीसबकोदीजाएगी।

कांग्रेसनेताओंनेउद्धवठाकरेसेंकीबात

दूसरीओर,प्रदेशकांग्रेसअध्यक्षबालासाहबथोरातनेकहाकिमंगलवारकोदिल्लीसेउनकेवरिष्ठनेताओंनेमुंबईआकरएनसीपीअध्यक्षशरदपवारसेशिवसेनाकोसाथलेकरसरकारबनानेकेसंबंधमेंचर्चाकीथी।इसीचर्चाकीपृष्ठभूमिमेंबुधवारकोप्रदेशकांग्रेसनेताओंनेउद्धवठाकरेसेसदिच्छाभेंटकी।जल्दहीवहएनसीपीनेताओंकेसाथसाझासरकारकीशर्तेंऔरन्यूनतमसाझाकार्यक्रमोंपरचर्चाकरेंगे।उसकेबादफिरशिवसेनासेबातकीजाएगी।

बतादेंकिराज्यमेंराष्ट्रपतिशासनलगनेसेपहलेजहांराज्यपालद्वाराबारी-बारीसेभाजपा,शिवसेनाऔरराकांपाकोसरकारबनानेकान्योतादियागयाथा।विधायकोंकीसमुचितसंख्यानहींहोनेकेकारणभाजपास्वयंपीछेहटगईथीतोशिवसेनाकोनिर्धारितअवधिकेभीतरकांग्रेस-एनसीपीकासमर्थनहासिलनहींहोसका।एनसीपीनेभीआवश्यकविधायकोंकाब्योरापेशकरनेकेलिएराज्यपालसेऔरसमयकीमांगकीथी।

नयागठबंधन'महाशिवआघाड़ी'बननेकीप्रक्रियातेज

लेकिनराज्यपालनेसमयदेनेकेबजायराष्ट्रपतिशासनकीसिफारिशकरदी।अबराष्ट्रपतिशासनलगनेकेबादकांग्रेस-एनसीपीऔरशिवसेनामेंनयागठबंधन'महाशिवआघाड़ी'बनाकरसरकारबनानेकीप्रक्रियातेजहोगईहै।कांग्रेस-राकांपाइसप्रक्रियामेंपहलेआपसीबातचीतमेंसभीपहलुओंपरबातचीतकरकेसंतुष्टहोजानाचाहतीहैं।उसकेबादहीवेशिवसेनासेबातशुरूकरनाचाहतीहैं।

हालकेविधानसभाचुनावपरिणाममेंभाजपाको105,शिवसेनाको56,राकांपाको54औरकांग्रेसको44सीटेंमिलीथीं।भाजपा-शिवसेनागठबंधनकरकेचुनावलड़ेथे,लेकिनचुनावपरिणामआनेकेबादशिवसेनाकमसेकमढाईसालकेलिएअपनामुख्यमंत्रीबनानेकेमुद्देपरभाजपासेअलगहोचुकीहै।शिवसेनानेतासंजयराउतनेभीबुधवारकोअस्पतालसेछुट्टीहोतेहीदोहरायाकिराज्यमेंमुख्यमंत्रीशिवसेनाकाहीबनेगा।चूंकिएनसीपीकीसीटेंउससेसिर्फदोकमहैंइसलिएवहभीकमसेकमढाईसालकेलिएमुख्यमंत्रीपदचाहतीहै।जबकि44सीटोंवालीकांग्रेसकोपूरेपांचसालकेलिएउपमुख्यमंत्रीपददियाजासकताहै।लेकिनएनसीपी-शिवसेनामेंपहलेमुख्यमंत्रीकिसकाहोगा,इसकाफैसलाकरनाआसाननहींहोगा।

भाजपाप्रदेशकार्यकारिणीकीबैठकआजसे

भाजपाप्रत्यक्षतौरपरसरकारबनानेकीप्रक्रियासेदूरनजरआरहीहै,लेकिनउसकेकईनेताइसलक्ष्यमेंजुटगएहैं।भाजपाप्रदेशकार्यकारिणीकीबैठकभीगुरुवारसेमुंबईमेंबुलाईगईहै।मानाजारहाहैकिबैठकमेंराष्ट्रपतिशासनकेदौरानतोसरकारबनानेकीकोशिशोंपरविचारहोगाही,इसकेअलावाप्रदेशमेंकोईऔरसरकारबनजानेकीस्थितिमेंमध्यावधिचुनावकीतैयारियोंपरभीचर्चाकीजाएगी।प्रदेशमेंकोईऔरसरकारबननेकीस्थितिमेंभाजपासदनसेसड़कतकमजबूतविपक्षकीभूमिकानिभानेकीतैयारीकररहीहै।ताकिमतदाताओंकेबीचजाकरविपक्षमेंरहींकांग्रेस-एनसीपीकेसाथ-साथअबतकअपनेसाथसत्तामेंरहीशिवसेनाकीभूमिकाएंउजागरकरसके।