क्रांतिकारी पेंडू मजदूरों ने सरकार के खिलाफ किया रोष प्रदर्शन

संवादसूत्र,धूरी(संगरूर)

शहरकेलेबरचौकमेंमजदूरोंनेक्रांतिकारीपेंडूमजदूरयूनियनपंजाबकीअगुवाईमेंपंजाबसरकारकेझूठेवादोंकेखिलाफजमकरनारेबाजीकी।यूनियनकेजिलाप्रधानबलजीतसिंहनेकहाकिसरकारअपनीवोटलेनेकेलिएमजदूरोंकोराजनीतिकेतहतझूठेवादेकरकेबड़े-बड़ेसपनेदिखारहीहै।सरकारनेकहाथाकि3100रुपयेलाभार्थियोंकेखातेमेंडालेजाएंगे,मजदूरोंकोपांच-पांचमरलेप्लांटजारीकिएजाएंगे,मजदूरकोवर्षभरकाकामदियाजाएगा,लेकिनउक्तवादेझूठेनिकले।सरकारमजदूरोंसेमजाककररहीहै।मजदूरोंनेकहाकिसरकारनेवर्षभरकाकार्यतोदूरएकदिनभीरोजगारनहींदिया।लाभार्थीकापीसेजुड़ेखातोंमेंएकपैसाभीनहींडाला।ऐसेमेंएकसप्ताहसेमजदूरलेबरचौकसेमजदूरीनमिलनेकेकारणघरलौटरहेहैं।इससेपरिवारआर्थिकतौरपरकमजोरहोतेजारहेहैं।पंजाबसरकारसेमांगकीकिकिएगएवादेपूरेकिएजाएं।मौकेपरयूनियनईकाईधूरीकेनेताजसपालसिंह,जगरूपसिंह,दानसिंह,निर्मलसिंहआदिमौजूदथे।