Kisan Andolan: अंग्रेजी हुकूमत ने भी मानी थी किसान एकता के आगे हार, सबक ले सरकार: कांग्रेस

संवादसूत्र, भिवानी।हरियाणाप्रदेशकांग्रेससमितिकीअध्यक्षा,कुमारीसैलजाकेराजनैतिकसचिववदक्षिणहरियाणाकेप्रभारीराजनरावने कहाकिअंग्रेजीहुकूमतने1907मेंआजकीहीतरहकृषिऔरकिसानोंकेलिएकालेकानूनबनाएथे,जिन्हेंदेशकेकिसानोंनेमाननेसेइनकारकरदियाथा।उससमयसंयुक्तपंजाब(पंजाब,हरियाणा,हिमाचलप्रदेश)केकिसानोंनेउनकालेकानूनोंकेखिलाफबिगुलबजायाथा,जिसकीअगुआईशहीदभगतसिंहकेचाचाअजीतसिंहनेकीथी। उन्होंनेकहाकिभाजपासरकारकीमंशाबातचीतकोलंबाखींचकरआंदोलनकोखत्मकरानेकीहै,जिसेकिसानऔरदेशकीजनतासमझचुकीहै।

अगरसरकारदेशकेअन्नदाताकीसमस्याकोसमझतीतोअभीतककानूनरद्दकरनेकाफैसलालेलियागयाहोता,लेकिनसरकारइसमुगालतेमेंहैकिआंदोलनसेऊबकरकिसानअपनेघरोंकोलौटजाएंगे।सरकारकायहीभ्रमदेशकाअन्नदातातोड़नेकामनबनाचुकाहै।रावनेकहाअंग्रेजीहुकूमतकेसमयभीकिसानआंदोलनपूरेआठमहीनेतकचलाथा।किसानोंनेकानूनोंकोरद्दकराकरहीदमलियाथा।देशमेंएकबारफिरवहीस्थितिबनरहीहै।इसबारभीदेशकाअन्नदाताकानूनोंकोरद्दकरवाकरहीदमलेगा,इसकेलिएचाहेआंदोलनकितनाभीलंबाचलेयाकिसानोंकोकोईभीकीमतचुकानीपड़े।आएदिनकिसानअपनीजानगंवारहेहैं।सरकारइससेअधिककिसानोंकाऔरक्याइम्तिहानलेगी।

उन्होंनेकहाकिअगरसरकारअपनीहठधर्मिताछोड़करकालेकानूनोंकोरद्दकरनेकानिर्णयकरलेंतोतत्कालकिसानअपनेघरोंकोलौटनेकोतैयारहैं।किसानोंनेअपनेरुखसेसरकारकोबताभीदियाहैकिजबतककानूनवापिसनहींहोते,किसानोंकीघरवापसीभीनहींहोगी।उन्होंनेकहाकिहरवार्ताबैठककेबादअगलीतारीखदेदीजारहीहै।जबसरकारझुकनेकोतैयारहीनहींहैतोवार्ताकाक्यालाभ।कानूनोंकोरद्दकरसरकारसारेड्रामेपरविरामलगासकतीहै।उन्होंनेकहाकिऐसानहींहैकिकांग्रेसमेंलोगोंनेआंदोलननहींकिए,लेकिनकांग्रेसलोगोंकीबातकोसुनतीथीऔरउनकासमाधानकरतीथी।लेकिनभाजपानालोगोंकीसुनतीहैऔरनहीसमस्याओंकासमाधानकरतीहै।उन्होंनेकहाकिकांग्रेसदेशकेकिसानोंकेसाथकंधेसेकंधामिलाकरखड़ीहै।कांग्रेसकिसानोंकेहरसंघर्षमेंकदमसेकदममिलाकरसाथचलेगी।पार्टीकेनेताराहुलगांधीपहलेहीसाफकरचुकेहैंकिपार्टीकिसानोंपरकिसीभीतरहकाअत्याचारसहननहींकरेगी।पार्टीकोइसकेलिएकिसीभीस्तरपरलड़ाईलड़नीपड़े।

किसानअस्तित्वकीलड़ाईलड़रहेऔरसरकारतारीखपरतारीखदेरही:सोमवीर

ढिगावामंडी:कांग्रेसपार्टीकेवरिष्ठनेताएवंपूर्वविधायकचौधरीसोमबीरनेशनिवारकोढिगावाक्षेत्रकेआधादर्जनगांवोंकादौराकियाऔरग्रामीणोंसेरूबरूहोतेहुए।उन्होंनेकहाकिगांवोंमेंसरकारऔरमंत्रियोंकाभारीविरोधहोरहाहै।तीनोंकृषिकानूनोंमेंसंशोधननहीं,इन्हेंरदकियाजाए।इनकानूनोंकोवापसनहींलियागयातोकेंद्रकेसाथ-साथराज्यसरकारकोभीइसकाखामियाजाभुगतनापड़ेगा।अबयहस्पष्टभीहोगयाहैकिइनकानूनोंकोकारपोरेटकेकहनेपरबनायागयाहै।सरकारकीमंशाअबभीसमाधानकीनहींहै।इसअवसरपरपूर्वबीईओकरण¨सहगोठड़ा,दरियासिंह,शक्तिसिहं,कुलदीपबाम्बल,मुंशीरामबुढेड़ी,मुख्यतारसिहंनंबरदार,दिनेशजोशी,सरपंचभगवानाराम,साविलचोपड़ा,मनोजबागड़ीआदिकार्यकर्ताउपस्थितरहे।