किसानों के साथ बैठक में केंद्र सरकार निकाले हल: ब्रह्मपुरा

जागरणसंवाददाता,अमृतसर:शिरोमणिअकालीदलटकसालीकेअध्यक्षरणजीतसिंहब्रह्मपुरानेकहाकिकेंद्रकीमोदीसरकारकोचारजनवरीकोकिसानोंकेसाथकीजानेवालीबैठकमेंकोईपरिणामनिकालनाचाहिए।उन्हेंउनकीमांगकोस्वीकारतेहुएतीनोंकृषिसुधारकानूनोंकोरदकरनाचाहिएताकिठिठुरतीसर्दीमेंकिसानोंवमजदूरोंकीबढ़रहीमुश्किलोंकोखत्मकियाजासकेऔरवेघरलौटसकें।

ब्रह्मपुरानेकहाकिकिसानीआंदोलनकेदौरान60केकरीबकिसानोंकीजानजाचुकीहैपरंतुकेंद्रसरकारकोएकनिजीकंपनीकेटावरोंकाअधिकफिक्रहैजबकिसरकारकोकिसानोंकाफिक्रकरनाचाहिएथा।किसानआंदोलनपूरीतरहलोकतांत्रिकढंगसेचलरहाहै।चारजनवरीकीबैठकपरदुनियाभरकीनजरहै।उन्होंनेकहाकियहबैठकपहलीबैठकोंकीतरहअसफलनहींहोनीचाहिए।पंजाबकेकिसानोंऔरमजदूरोंकीहालतकाफीदयनीयहै।सरकारकोउनकेआंदोलनकाध्यानरखतेहुएकृषिकानूनोंकोरदकरनाचाहिए।कृषिकानूनोंकेखिलाफनिकालीरोषरैली

गुरुद्वारानानकसरसाहिबसंधूकालोनीछेहरटासेगुरलीनकौरकीअगुआईमेंकृषिकानूनोंकेखिलाफरोषरैलीनिकाली।इसदौरानसंधूवेलफेयरसोसायटीकेप्रधानस्वर्णसिंहसंधू,एडवोकेटजगीरसिंहवडा.बलजीतसिंहनेसंयुक्तरूपसेकहाकिकृषिकानूनोंकेविरोधमेंकिसानोंवमजदूरोंमेंरोषहैं।केंद्रसरकारशीघ्रइनकानूनोंकोरदकरे।इसमौकेपरसुच्चासिंह,कैप्टनमोतासिंह,बावासिंह,प्रदीपसिंह,गुरप्रीतसिंह,बलदेवसिंह,स्वर्णसिंहभुल्लरआदिमौजूदथे।