किसान आंदोलन को दबाने में विफल केंद्र की भाजपा सरकार अब किसानों को कुचल रही है: पायलट

जयपुर,11अक्टूबर(भाषा)राजस्थानकेपूर्वउपमुख्यमंत्रीसचिनपायलटनेसोमवारकोभाजपाकोकिसानविरोधीबतातेहुएकहाकिकेंद्रकीभाजपासरकारजबकिसानआंदोलनकोदबानेमेंसफलनहींहोसकीतोअबभाजपाकिसानोंकोकुचलरहीहै।उन्होंनेकहाभाजपाकेनेताहिंसाकोबढ़ावादेनेकीबातेंकररहेहैं।पायलटनेटोंकजिलेअरनियामालगांवमेंकेन्द्रकीविगतकांग्रेससरकारतथावर्तमानभाजपासरकारकेशासनकालकेकार्योंकीतुलनाकरतेहुएपायलटनेकहाकिकांग्रेसने10सालमें18करोड़लोगोंकोगरीबीरेखासेउपरलानेकाकामकियाजबकिभाजपाकेराजमेंउद्योग-धन्धेबन्दहोगएहै,बेरोजगारीबेतहाशाबढ़गईहै,किसानआत्महत्याकरनेकोमजबूरहोगयेहैं।उन्होंनेकहाकिकांग्रेसकीसरकारमनरेगायोजनालेकरआयी,खाद्यसुरक्षाकानून,सूचनाकाअधिकार,शिक्षाकाअधिकारकानूनलागूकियाजिससेगरीब,पिछड़ों,दलितों,किसानों,महिलाओंएवंनौजवानोंकोसम्बलमिला।ठीकइसकेविपरीतभाजपासरकारकिसानविरोधीतीनकालेकानूनलेकरआयीहै।उन्होंनेकहा,“चन्दलोगोंकोलाभपहुंचानेकेउद्देश्यसेभाजपासरकारजोकानूनलेकरआयीहै,उससेकिसानबर्बादहोजायेंगे।इनकालेकानूनोंकेविरोधमेंहमारेकिसानभाईसालभरसेआंदोलनकरहैं।भाजपासरकारजबकिसानआंदोलनकोदबानेमेंसफलनहींहोसकीतोअबभाजपाकिसानोंकोकुचलरहीहै।भाजपाकेनेताहिंसाकोबढ़ावादेनेकीबातेंकररहेहैं।”पायलटनेयहांएकस्वास्थ्यशिविरमेंनि:शुल्करक्तचापजांचभीकरवाई।इसकीफोटोट्विटरपरसाझाकरतेहुएपायलटनेलिखा,“मेरेनिर्वाचनक्षेत्रमेंएकसरकारीशिविरमेंनि:शुल्कजांचकरवाई।खुशीहैकि'रक्तचाप'कीजांचसामान्यआई!!”उन्होंनेकहा,‘‘प्रशासनगांवों/शहरोंकेसंगअभियान’’केमाध्यमसेलोगोंकेरोजमर्राकेकामोंकोएकहीस्थानपरपूराकियाजारहाहै।उनकीसमस्याओंकातत्कालनिदानहोरहाहै।शिविरमेंसभीअधिकारीमौजूदरहतेहैं।इनशिविरोंकाहमेंज्यादासेज्यादालाभउठानाचाहिए।कार्यक्रमकेबादसंवाददाताओंसेबातचीतमेंपायलटनेकोयलेकीकमीकेकारणपैदाहुएबिजलीसंकटकेबादराज्यमेंचलरहीबिजलीकटौतीपरकहाकिमैंउम्मीदकरताहूंकिकोईबहुतभारीसंकटनहींआएगाऔरबिजलीकीकटौतीऔरज्यादानहींहोगी।पायलटनेसंवाददाताओंसेबातचीतमेंकहाकिबिजलीकेसंकटमेंकेन्द्रसरकारभीपूरासहयोगनहींकरपारहीहै।उन्होंनेकहा,“चाहेराजस्थानसरकारहो,दिल्लीसरकारयाअन्यराज्य,वोकईदिनोंसेकहरहेहैकिऐसानहोकिबहुतबड़ासंकटपैदाहोजाये...इसलियेसमयरहतेहुएहमलोगोंनेकेन्द्रसरकारकोसचेतकियाथाऔरवहांसेकितनाकोल(कोयला)मिलपायेगा..नहींमिलपायेगायहउनपरनिर्भरकरताहै...लेकिनमैंउम्मीदकरताहूंकिकोईबहुतभारीसंकटनहींआयेगाऔरबिजलीकीकटौतीऔरज्यादानहींहोगी।”