केंद्र सरकार की श्रम विरोधी नीति के खिलाफ बीएमएस का प्रदर्शन

बर्नपुर:केंद्रीयभारतीयमजदूरसंघकेआह्वानपरपूरेभारतमेंसरकारकीगलतनीतियोंकेखिलाफबुधवारकोविरोधदिवसकापालनकियाजारहाहै।इसीकेतहतबर्नपुरइस्पातकर्मचारीसंघऔरबर्नपुरठेकेदारमजदूरसंघनेत्रिवेणीमोड़केनिकटविश्वकर्माभवनकेपासविरोधप्रदर्शनकिया।प्रदर्शनकेदौरानयूनियनकेमहासचिवदीपकसिंहनेकहाकिकेंद्रसरकारचारकोडलाईहै।जिसमेंवेजकोड2019,इंड्रस्ट्रियलरिलेशनकोड2020,ओकोपेशनलसेफ्टी,हेल्थएवंवर्किगकंडीशनकोड2020औरसोशलसिक्यूरिटीकोड2020है।जिसमेंवेजबिलकोडमेंपुरानेचारअधिनियम,आइआरकोडमेंपुरानेतीनअधिनियम,सोशलसिक्यूरिटीकोडमेंपुरानेआठअधिनियमऔरओएसएचवर्किगकोडमेंपुरानेतीनअधिनियमकेसाथ10औरअधिनियमकोसम्मिलितकियागयाहै।इसमेंसंशोधनकेलिएबीएमएसनेपत्रलिखाथा,जिसमेंकुछआपत्तियोंकोछोड़करअधिकतरआपत्तिकोखारिजकरदियागयाहै।जिसकीवजहसेबीएमएसकोविरोधदिवसमनानापड़रहाहै।वेजकोडकास्वागतकियागयाहै,क्योंकिइससेअंतिमव्यक्तितकन्यूनतमवेतनसुनिश्चितकियाजाताहै।बाकीयूनियनसभीचारकोडकाराजनीतिसेप्रेरितहोकरविरोधकररहीहैं।उन्होंनेकहाकि100सेअधिकश्रमिकसंख्यावालेप्रतिष्ठानों,फैक्ट्रीमेंयहनियमलागूहोताहै,जिसकोबढाकर300करदियागयाहै।ऐसेसंस्थान,प्रतिष्ठानोंऔरफैक्ट्रीकीसंख्यापूरेदेशमेंकरीब70प्रतिशतहै।ऐसेमेंप्रबंधनकोकारखानाबंदकरनेएवंछंटनीकरनेकेलिएसरकारसेअनुमतिलेनेकीआवश्यकतानहींपड़ेगी।हमारीमांगहैकिइसको300सेपूर्ववत100कियाजानाचाहिए।साथहीछंटनीकेसमयएकसालमें15दिनकेस्थानपर45दिनकाभुगतानकरनाचाहिए।अगरसरकारइसमेंबदलावनहींकरतीहैतोदेशव्यापीहड़तालकीजाएगी।इसदौरानहीरालालयादव,बिदुभूषणपांडेय,संजीतबनर्जी,अमितसिंह,विकासगुप्ता,विक्रमबर्धन,नीरजदास,अशोकसिंह,विजयकुमार,महेशकुमार,कमलसिंह,राजेंद्रयादव,शंभुसिन्हा,मो.सुभान,विकासकुमार,तपस्याबाउरी,विनोदराय,शंकरमेहता,राकेशकुमार,जगदीशकुमारआदिमौजूदथे।