कभी सरकार बनाने वाली कांग्रेस को गया शहरी विधानसभा सीट पर 1985 में मिली आखिरी जीत, कहां रही कमी

जेएनएनगया।अपनेजमानेमेंजनताकेबीचमजबूतसाखरखनेवालीभारतीयराष्ट्रीयकांग्रेसगयाजिलेमेंसिमटतीनजरआरहीहै।हालियाविधानसभाचुनावकेनतीजेभीकांग्रेसमहागठबंधनकेपक्षमेंनहींआए।इससेकांग्रेसियोंमेंघोरनिराशाकामाहौलहै।गयाटाउनविधानसभाचुनावलड़रहेकांग्रेसकेप्रत्याशीअखौरीओंकारनाथअपनाचुनावजीतनेकेकरीबहोकरभीअंतमेंहारगए।हालांकिउन्होंनेअपनीजीतसुनिश्चितकरानेमेंकोईकसरनहींछोड़ी।लेकिनजातीयसमीकरणवराजनीतिकेदांवकोसमझपानेमेंपूर्वमंत्रीवभाजपाकेप्रत्याशीडॉ.प्रेमकुमारकीतुलनामेंकांग्रेसकेअखौरीपीछेरहगए।

वरीष्ठकांग्रेसीनेतासहपूर्वविधायकडॉ.युगलकिशोरसिंहबतातेहैंकिगयाशहरीविधानसभाक्षेत्रमें1985मेंहुएचुनावमेंअंतिमबारकांग्रेसपार्टीसेजयकुमारपालितकोजीतमिलीथी।1990केदशकतकपूरेदेशऔरराज्योंकेअधिकांशविधानसभाक्षेत्रोंमेंकांग्रेसकावर्चस्वहुआकरताथा।उससमयकेकांग्रेसीनेताऔरसंगठनकेतमामकार्यकर्तापार्टीकीमजबूतीकेलिएएकजुटहोकरलड़ाईलड़तेथे।90दशककेबादपार्टीकाइंजनहीएकतरहसेकमजोरपड़गया।नतीजतनकांग्रेसपार्टीजातीयसमीकरणवराजनीतिकेदांवपेंचकोसमझनेमेंविफलरहीहै।वहआजइनसारीपरिस्थितियोंमेंखुदकोकमजोरपातेहैं।

राज्योंमेंअलग-अलगक्षेत्रीयदलोंकेजन्मलेनेकेबादकांग्रेसकीताकतकमजोरहुईहै।कांग्रेसपार्टीकेजिलाध्यक्षचंद्रिकाप्रसादयादवबतातेहैकिपिछलेदोचुनावसेकांग्रेसपार्टीकीवोटिंगप्रतिशतमेंबढ़ोत्तरीहुई।2015केचुनावमेंगयाशहरीविधानसभाकांग्रेसप्रत्याशीप्रियरंजनको43596वोटमिलेथे।22595वोटोंकेअंतरसेभाजपाकेडॉ.प्रेमकुमारजीतदर्जकीथी।वहीं,2020कीचुनावमेंगयाटाउनविधानसभाकांग्रेसप्रत्याशीअखौरीओंकारनाथको55034वोटमिलाहै।अंतर11898वोटोंकारहा।इसलिएजनताकेबीचहमारीपकड़होनेलगीहै।इसकाअसरभविष्‍यमेंदिखेगा।