J-K: लोकसभा के साथ हो सकते हैं चुनाव, राज्यपाल ने बताया क्यों भंग की विधानसभा

जम्मू-कश्मीरकीराजनीतिनेबुधवारकीशामएकदमकरवटली.पीडीपीकीअगुवाईमेंबुधवारकोकुछपार्टियोंनेसरकारबनानेकान्योताभेजातोराज्यपालसत्यपालमलिकनेकुछहीमिनटोंबादराज्यकीविधानसभाहीभंगकरदी.राज्यपालकेइसफैसलेकीकईपार्टियांआलोचनाकररहीहैं.

आजतकसेखासबातकरतेहुएभीराज्यपालसत्यपालमलिकनेइसफैसलेकेपीछेकेकारणभीबताए.उन्होंनेकहाकिउन्हेंआशंकाथीकिसरकारबनानेकेलिएखरीद-फरोख्तहोसकतीहै,इसलिएउन्हेंयेफैसलालेनापड़ा.उन्होंनेयेभीकहाकिउन्हेंमहबूबामुफ्तीयासज्जादलोनकीओरसेकोईखतनहींमिला.

इसकेअलावाराजभवनकीओरसेबयानदियागयाकिराज्यपालनेअहमकारणोंसेतत्कालप्रभावसेविधानसभाभंगकरनेकानिर्णयलियाजिनमें‘‘व्यापकखरीदफरोख्त’’कीआशंकाऔर‘‘विरोधीराजनीतिकविचारधाराओंवालीपार्टियोंकेसाथआनेसेस्थिरसरकारबननाअसंभव’’जैसीबातेंशामिलहैं.

राजभवननेबादमेंएकबयानमेंकहा,‘‘राज्यपालनेयहनिर्णयअनेकसूत्रोंकेहवालेसेप्राप्तसामग्रीकेआधारपरलिया.’’उन्होंनेयेभीकहाकिजरूरीनहींकिराज्यकेचुनावअभीहों,येचुनावलोकसभाचुनावकेसाथभीकराएजासकतेहैं.

जोकररहीथींविधानसभाभंगकरनेकीमांग,वहीबनारहेसरकार

इनमेंअहमकारणोंमेंसेमुख्यकारणकाजिक्रकरतेहुएकहागयाहैकिविरोधीराजनीतिकविचारधाराओंवालीपार्टियोंकेसाथआनेसेस्थाईसरकारबननाअसंभवहै.इनमेंसेकुछपार्टियोंतोविधानसभाभंगकरनेकीमांगभीकरतीथीं.

बयानमेंकहागयाकिइसकेअलावापिछलेकुछवर्षकाअनुभवयहबताताहैकिखंडितजनादेशसेस्थाईसरकारबनानासंभवनहींहै.ऐसीपार्टियोंकासाथआनाजिम्मेदारसरकारबनानेकीबजाएसत्ताहासिलकरनेकाप्रयासहै.

बयानमेंआगेकहागया,‘‘व्यापकखरीदफरोख्तहोनेऔरसरकारबनानेकेलिएबेहदअलगराजनीतिकविचारधाराओंकेविधायकोंकासमर्थनहासिलकरनेकेलिएधनकेलेनदेनहोनेकीआशंकाकीरिपोर्टेंहैं,ऐसीगतिविधियांलोकतंत्रकेलिएहानिकारकहैंऔरराजनीतिकप्रक्रियाकोदूषितकरतीहैं.’’

उन्होंनेकहाकिबहुमतकेलिएअलगअलगदावेंहैंवहांऐसीव्यवस्थाकीउम्रकितनीलंबीहोगीइसपरभीसंदेहहै.इसमेंकहागया,‘‘जम्मूकश्मीरकीनाजुकसुरक्षाव्यवस्थाजहांसुरक्षाबलोंकेलिएस्थाईऔरसहयोगात्मकमाहौलकीजरूरतहै,येबलआतंकवादविरोधीअभियानोंमेंलगेहुएहैंऔरअंतत:सुरक्षास्थितिपरनियंत्रणपारहेहैं.’

गौरतलबहैकिबुधवारशामकोमहबूबामुफ्तीनेपीडीपीके29,एनसीके15औरकांग्रेसके12विधायकोंकोमिलाकर56विधायकोंकासमर्थनहासिलहोनेकादावाकरतेहुएसरकारबनानेकीपेशकशकीथी.