हाइ कोर्ट ने नोटिस जारी कर दिल्ली सरकार, दिल्ली जल बोर्ड और कैग से मांगा जवाब, जानिए पूरा मामला

नईदिल्ली,जागरणसंवाददाता।दिल्लीजलबोर्डकेखातोंकाआडिटकरानेकीमांगकरतेहुएदायरकीगईजनहितयाचिकापरमंगलवारकोहाईकोर्टनेदिल्लीसरकार,दिल्लीजलबोर्ड(डीजेबी)औरभारतकेनियंत्रकऔरमहालेखापरीक्षक(कैग)कोनोटिसजारीकरजवाबमांगाहै।भाजपाकेदिल्लीप्रदेशप्रवक्ताहरीशखुरानाकीतरफसेदायरयाचिकामेंकहागयाकिकरीबछहसालोंसेजलबोर्डकेखातोंकाआडिटनहींहुआहै।इसमेंजलबोर्डकेखातोंऔरअन्यप्रासंगिकरिकार्डकाउचितरखरखावकरनेऔरवर्ष2015केबादसेलाभ-हानिकावार्षिकविवरणतैयारकरनेकानिर्देशदेनेकीमांगकीगईथी।

याचिकामेंकैगकोजलबोर्डकाआडिटकरनेकानिर्देशदेनेकीभीमांगकीगईथी।इसयाचिकापरमुख्यन्यायाधीशडीएनपटेलऔरन्यायमूर्तिज्योतिसिंहकीपीठकेसमक्षदिल्लीजलबोडकीओरसेवरिष्ठअधिवक्तासंजयघोषनेकहाकिप्रतिद्वंद्वीदलकेनेतानेराजनीतिकप्रयोजनसेयाचिकादायरकीहै।साथहीबतायाकिआडिटकाकामजारीहै।इसपरपीठनेनोटिसजारीकरतेहुएमामलेकीसुनवाईचारअक्टूबरतकटालदी।

दरअसलदिल्लीहाईकोर्टमेंदायरजनहितयाचिकामेंकहागयाहैकिआरटीआईसेमिलीजानकारीकेमुताबिकदिल्लीजलबोर्डनेसाल2015केबादसेबैलेंसशीटनहींतैयारकीहै,इसवजहसेअबतकदिल्लीजलबोर्डकेखातोंकाऑडिटभीनहींहोपारहा,इसयाचिकामेंयेभीकहागयाहैकि11मई2021,24मई2021और22जुलाई2021केजवाबसेयेसाफहोरहाहैकिवित्तीयवर्ष2015-16औरउसकेबादकीबैलेंसशीटअभीभीतैयारकरनेकाकामजारीहै,इसेपहलेसेतैयारनहींकियागया।

इसीआधारपरजनहितयाचिकामेंमांगकीगईहैकिदिल्लीजलबोर्डकोनिर्देशदियाजाएकिवहसाल2015सेलेकरअबतककीबैलेंसशीटतैयारकरें।इसकेसाथहीकोर्टसेमांगकीगईहैकिदिल्लीजलबोर्डकीबैलेंसशीटकेऑडिटजांचकाभीनिर्देशदियाजाए,जिससेचीजेंसाफहोसकेंऔरसच्चाईसामनेआसके।उधरकोर्टमेंमौजूदसीएजीकेवकीलनेकोर्टकोजानकारीदीकिदिल्लीजलबोर्डकीतरफसेसाल2015केबादसेअपनीबैलेंसशीटहीतैयारनहींतैयारकीगईलिहाजाउसकेखातोंकीजांचनहींकीजासकती,ऐसेमेंजांचकासवालउठानालाजिमीहीनहींहै।