एनएसयूअाइ की दो टूक, जब तक वैक्सीन नहीं, तब तक प्रदेश में न हों परीक्षाएं

धर्मशाला,जेएनएन।एनएसयूअाइकेराज्यसचिवरजतसिंहराणानेकहाकिसरकारकोइससमयकिसीभीप्रकारकीपरीक्षाकरवानेकाजोखिमनहींउठानाचाहिए।प्रदेशमेंधीरे-धीरेकोविड-19केकेसकमहोरहेहैंजोकीअच्छीबातहै।इसमहामारीकोपहलेजड़सेखत्मकरलियाजानाचाहिए।उसीकेबादभीड़जुटानेऔरपरीक्षाएंकरवानेजैसीबातोंपरसोचनाचाहिए।

राणानेयहभीकहाकिपहलेहरएकछात्रकीवैक्सिनेशनकरवानासरकारकादायित्वहोनाचाहिए।उसीकेबादपरीक्षाएंकरवानीचाहिए।31मईकोआख़रीस्लॉटलगाथा,अगलाकबलगेगाकिसीकोमालूमनहीं,मगरजयरामठाकुरकोतोसिर्फ2022मेंअपनीकुर्सीबचानेकीपड़ीहै।कोरोनामहामारीकेप्रकोपसेसभीबखूबीवाकिफहैऔरवैज्ञानिकोंद्वाराकोरोनाकीतीसरीलहरआनेकीबातकोगंभीरतासेलेनाचाहिए।ऐसीस्तिथिमेंअबकिसीभीप्रकारसेजानमालकोजोखिममेंडालनामूर्खताहोगी।

परीक्षाएंकरवानेसेभीबड़ेमुद्देअभीशिक्षाओररोजगारजगतमेंबचेहुएहैजिनपरसरकारकोध्यानदेनाचाहिए।जिनमेंयूआइआइटीमेंफीसकीजोलूटमचीहैजिसपरछात्रोंकोप्रशासनद्वारा15जूनतकफीसजमाकरवानेकेलिएधमकायाजारहाहै।उसपरसरकारकोध्यानदेनाचाहिएऔरडीएलएडकमीशनकापरिणामदोसालोसेनहींआयाहैयेमुद्देमुख्यहै।राणानेकहाहमाराछात्रसंगठनसाफसाफसरकारकोकहरहाकिजबतकवेक्सिननहीं,तबतकएग्जामनहीं"।