एडीसीओ और एडीओ के समझाने का सचिवों पर नहीं पड़ा असर

संतकबीरनगर:अपरजिलासहकारीअधिकारी(एडीसीओ)रविकुमारश्रीवास्तववसहायकविकासअधिकारी(एडीओ)विकासभवनकेनिकटस्थितबहुउद्देशीयक्रीड़ाहालपरमंगलवारकोपहुंचे।इनदोनोंअधिकारियोंनेयहांपरधरनादेरहेसाधनसहकारीसमितियोंकेसचिवोंसेकहाकिआयुक्तवनिबंधकसहकारितानेउत्तरप्रदेशअत्यावश्यकसेवाओंकाअनुरक्षणअधिनियम1966केतहतछहमाहकेलिएपैक्सकेअधीनसभीसेवाओंमेंहड़तालकोप्रतिबंधितकरदियाहै।किसानोंकेहितपरध्यानदेतेहुएअनिश्चितकालीनहड़तालखत्मकरें।

इसपरसंयुक्तसहकारीकर्मचारीसमन्वयसमितिकेजिलाध्यक्षमोतीलालयादवनेकहाकिआयुक्तवनिबंधकसहकारिताकाआदेशतीननवंबरकोजारीहुआहै।जबकिसमितियोंकेसचिवनिश्चितमानदेयदेनेवयोग्यताकेआधारपरपदोन्नतिदेनेआदिदोमांगोंकोलेकरएकनवंबरसेअनिश्चितकालीनहड़तालपरहैं।इसलिएवेआयुक्तवनिबंधककेआदेशकोनहींमानेंगे।जबतकउनकीमांगेंनहींमानीजाएगी,तबतकअनिश्चितकालीनहड़तालजारीरखेंगे।इसपरदोनोंअधिकारीधरनास्थलसेवापसविकासभवनस्थितअपनेकार्यालयपरचलेगए।वहींसमितियोंकेसचिवधरनेपरबैठगए।जिलाध्यक्षनेकहाकिउन्हेंकिसानोंकीचिताहै।बिहारसरकारप्रत्येकसचिवको12हजाररुपयेमानदेयदेरहीहै।उत्तराखंडकीसरकारनेसचिवोंकोराज्यकर्मीघोषितकरदियाहै।सुप्रीमकोर्टकेनिर्देशपरराजस्थानसरकारसचिवोंकोराज्यकर्मीकादर्जादेदियाहै।अन्यराज्योंकीसरकारनेभीअच्छीपहलकीहैलेकिनइसप्रदेशकीसरकारप्रदेशव्यापीआंदोलनकरनेकेबादभीउनकीमांगोंपरध्याननहींदेरहीहै।जिलामहामंत्रीविकासगुप्तनेकहाकिजबतकउनकीमांगेंनहींमानीजाएगी,तबतककार्यबहिष्कारकरतेहुएधरनादियाजाएगा।धरनादेनेवालोंमेंराघवेंद्रसिंह,विजययादव,राकेशनायक,सुनीलदूबे,शिशिरश्रीवास्तव,रामचंद्रयादव,अविनाशसिंह,रामशंकरशुक्लकेअलावाअन्यसचिवशामिलरहे।