दिल्ली सीमा से किसानों को हटाने संबंधी याचिका पर 16 दिसंबर को सुनवाई करेगा न्यायालय

नयीदिल्ली,13दिसंबर(भाषा)उच्चतमन्यायालय16दिसंबरकोउसयाचिकापरसुनवाईकरेगाजिसमेंअधिकारियोंकोयहनिर्देशदेनेकीमांगकीगईहैकिवेकेंद्रकेतीननएकृषिकानूनोंकेखिलाफदिल्लीकीविभिन्नसीमाओंपरप्रदर्शनकररहेकिसानोंकोतत्कालहटाएं।याचिकामेंकहागयाहैकिरास्ताबंदहोनेसेयात्रियोंकोमुश्किलोंकासामनाकरनापड़रहाहैऔरइससेकोविड-19केमामलोंमेंभीइजाफाहोसकताहै।सर्वोच्चन्यायालयकीवेबसाइटकेमुताबिक,प्रधानन्यायाधीशएसएबोब्डेऔरन्यायमूर्तिएएसबोपन्नातथावीरामासुब्रमण्यनकीपीठविधिछात्रऋषभशर्माद्वारादायरयाचिकापरसुनवाईकरेगी।याचिकाकर्तानेअधिकारियोंकोदिल्लीकीसीमाओंकीसड़केंखुलवाने,प्रदर्शनकारियोंकोआबंटितस्थानपरस्थानांतरितकरनेऔरकोविड-19परलगामलगानेकेलियेप्रदर्शनस्थलपरसामाजिकदूरीकापालनऔरमास्कलगानेजैसेनियमोंकापालनसुनिश्चितकरानेकोकहाहै।याचिकामेंदावाकियागयाकिदिल्लीपुलिसने27नवंबरकोप्रदर्शनकारियोंकोयहांबुराड़ीमेंनिरंकारीमैदानपरशांतिपूर्णप्रदर्शनकरनेकीइजाजतदीथीलेकिनइसकेबावजूदउन्होंनेराष्ट्रीयराजधानीकीसीमाओंकोबंदकरदिया।अधिवक्ताओमप्रकाशपरिहारकेजरियेदायरयाचिकामेंकहागया,“दिल्लीकीसीमाओंपरजारीप्रदर्शनकीवजहसेप्रदर्शनकारियोंनेरास्तेबंदकररखेहैंऔरसीमाबिंदुबंदहैंऔरगाड़ियोंकीआवाजाहीबाधितहैजिससेयहांप्रतिष्ठितसरकारीऔरनिजीअस्पतालोंमेंइलाजकेलियेआनेवालोंकोभीमुश्किलेंहोरहीहैं।”