दिल्ली पुलिस अब अपने हर जिले में इन खास नेत्रों से भी अपराधियों पर रखेगी नजर, जानिए क्या है ये

नईदिल्ली,[धनंजयमिश्रा]।तकनीककेमामलेमेंदेशभरमेंसबसेमजबूतमानीजानेवालीदिल्लीपुलिसअबआसमानसेभीअपराधियोंपरनजररखेगी।दरअसल,दिल्लीपुलिसनेराजधानीकेहरजिलेमेंड्रोनसेनिगरानीकरनेकानिर्णयलियाहै।फिलहाल,पायलटप्रोजेक्टकेतहत18लाखरुपयेमेंदोअत्याधुनिकड्रोनखरीदेगएहैं,जिन्हें'नेत्र'नामदियागयाहै।योजनाकेमुताबिकजल्दही15ड्रोनऔरखरीदेजाएंगे।

दरअसल,देशकीराजधानीहोनेकीवजहसेदिल्लीबेहदसंवेदनशीलहै।यहांआतंकीहमलेकाखतरातोहमेशारहताहीहै।इसकेसाथहीधरनाप्रदर्शनवअन्यआंदोलनकेचलतेआएदिनबवालहोनेकीआशंकाबनीरहतीहै।ऐसेमेंसुबूतोंकेअभावमेंअपराधियोंपरशिकंजाकसनेमेंपुलिसकोपरेशानीहोतीहै।इसेदेखतेहुएपुलिसनेड्रोनखरीदनेकानिर्णयलियाहै।इससेआसानीसेआसमानसेपुलिससंदिग्धोंपरनजररखसकेगी।इसकेसंचालनकेलिएसातपुलिसकर्मियोंकोप्रशिक्षणदियागयाहै।

सिंघुऔरगाजीपुरबार्डरकेअलावाजंतर-मंतरपरपुलिसद्वाराइनकाट्रायलभीकियाजारहाहै।किरायेपरलिएजातेथेअबतकड्रोनपुलिसअधिकारियोंकेमुताबिकअबतकदिल्लीपुलिसकेपासअपनाकोईड्रोननहींथा।धरना-प्रदर्शनयाबड़ेआंदोलनकेसमयनिगरानीकेलिएपुलिसकिरायेपरड्रोनलातीथी।इसकेलिएप्रतिदिन25हजाररुपयेकिरायादेनापड़ताथा।इसकेअलावायेड्रोनपुलिसकीजरूरतकेमुताबिककवरेजभीनहींकरपातेथे।

ड्रोनसेयहहोगाफायदा

ड्रोनकेमाध्यमसेकिसीभीघटनाकीवीडियोग्राफीकरसंदिग्धोंकीआसानीसेपहचानकीजासकेगी।ऐसेमेंबलवायादंगेजैसेमामलोंमेंअपराधियोंकेखिलाफमजबूतसाक्ष्यजुटानेमेंमददमिलेगी।इसकेसाथहीबड़ेकार्यक्रमोंकेदौरानआपराधिकतत्वोंपरआसानीसेनजररखीजासकेगी।

=येड्रोनजीपीएसऔरहाईडाइमेंशनकैमरेसेलैसहैं,जिससेअधिकदूरीकावीडियोबनायाजासकेगा

=एकसेदोकिलोमीटरकीऊंचाईपर30से40मिनटतकहवामेंरहकरलाइवफोटोववीडियोकोरिकार्डकरकंट्रोलरूममेंभेजनेकीक्षमताहै

=एकसेडेढ़किलोतकवजनउठासकेगा

=पांचकिलोमीटरकीदूरीतकनजररखसकताहै

=360डिग्रीघूमनेवालाकैमरालगाहै,जोचारोतरफनजररखेगा

=एकबारप्रोग्रामिंगकरनेपरखुदहीपांचकिलोमीटरकेदायरेकीपेट्रोलिंगकरेगा

=बैटरीखत्महोनेकीस्थितिआनेसेपहलेमूलस्थानपरलौटआएगा

=उड़ानकेदौरानरिमोटसेसंपर्कनहींहोनेकीस्थितिमेंजहांसेउड़ाथा,वहींपरआकरलैंडहोगा