दिल्ली में वायु प्रदूषण के चलते किन चीजों पर पाबंदी और कहां राहत, यहां जानें सब कुछ

नईदिल्ली.अक्टूबरसेहीवायुप्रदूषणदिल्ली-एनसीआरवालोंकोपरेशानकरनेलगताहैं.अस्पतालोंतकमेंभीड़बढ़जातीहै.आंखोंमेंजलनऔरगलेमेंखराशहोनेलगतीहै.इसीकेचलतेदिल्लीसरकारनेवायुप्रदूषणकमकरनेकेलिएदिल्लीमेंकुछचीजोंकोअस्थायीरूपसेबैनकरदियाहै.वहींसरकारीआदेशकापालननहींकरनेऔरवायुप्रदूषणफैलानेवालोंपरजुर्मानालगायाजारहाहै.जबवायुप्रदूषणकास्तरघटताहैतोबैनमेंकुछराहतभीदीजातीहै.

दिल्ली-एनसीआरमेंवायुप्रदूषणकास्तरबढ़तेहीदिल्लीसरकारनेस्कूल-कॉलेजबंदकरनेकाआदेशजारीकरदिया.स्कूलीबच्चोंपरप्रदूषणकाअसरनहोइसकेलिए26नवंबरतककेलिएस्कूलबंदकरदिएगए.ऑनलाइनक्लासचलानेकीबातकहीगई.वहींवायुप्रदूषणबढ़ानेमेंशामिलसबसेबड़ेकारणोंमेंसेएकनिर्माणकार्यपरभीरोकलगादीगईथीलेकिनशनिवारऔररविवारकोजैसेहीवायुप्रदूषणकास्तरकुछकमहुआतोनिर्माणकार्यकरनेकेलिएकुछराहतदेदीगई.लेकिनइसराहतकेसाथ14पाइंटकीगाइडलाइनभीजारीकीगईहै.गाइडलाइनकापालनकरतेहुएहीदिल्लीमेंनिर्माणकार्यकरायाजासकेगा.अगरकिसीभीएकनियमकापालननहींकियागयातोजुर्मानाभरनाहोगा.

दिल्लीमेंअगलेआदेशतककेलिएट्रकोंकीएंट्रीबैनकरदीगईहै.गैरजरूरीसामानलेकरआनेवालेट्रकोंकोएंट्रीनहींदीजाएगी.डीजलसेचलनेवालेट्रकोंकोकिसीभीतरहकीरियायतनहींदीजारहीहै.सीएनजीसेचलनेवालेकर्मिशियलवाहनोंकोजरूरकुछछूटदीगईहै.लेकिनदिल्लीमेंउन्हींट्रककोएंट्रीदीजारहीहैजोखाने-पीनेकाजरूरीसामानलेकरआरहेहैं.गौरतलबरहेकिवायुप्रदूषणमेंपीएम2.5बढ़ानेमेंवाहनोंसेनिकलाधुआंभीएकबड़ाकारणहोताहै.

सुपरटेककेट्वीनटावरगिरानेमेंबचेहैंसिर्फ8दिन,नोएडाअथॉरिटीनेउठायायेकदम

लोगअपनेवाहनलेकरसड़कोंपरकमनिकलें,इसकेलिएदिल्लीसरकारने50फीसदछूटकेसाथवर्कफ्रामहोमकेआदेशजारीकिएहैं.सभीआफिसकोआदेशदेतेहुएकहागयाहैकिअपने-अपनेआफिसकीकुलसंख्याकेकर्मचारियोंकी50फीसदसंख्यासेघरपरऔरबाकीबची50फीसदसेआफिसमेंकामकरायाजाए.

धुआंउगलनेवालेजनरेटरचलानेपरभीदिल्लीसरकारनेरोकलगादीहै.बाजारोंमें,होटल-रेस्टोरंटमें,शादी-विवाहसमारोहमेंऔरखासतौरपररेजीडेंटसोसाइटियोंमेंबड़े-बड़ेजनरेटरचलाएजातेहैं.हजारोंलीटरडीजलइसदौरानजलकरधुआंछोड़ताहै.इसीकोदेखतेहुएजनरेटरपररोकलगाईगईहै.इसकेसाथहीसार्वजनिकजगहऔरसड़ककेआसपासकूड़ा-करकटजलानेपरभीरोकलगानेकेसाथहीजुर्मानेकानियमभीरखागयाहै.अभीतककईजगहोंपरखुलेमेंकूड़ा-करकटजलानेपरजुर्मानावसूलागयाहै.

ब्रेकिंगन्यूज़हिंदीमेंसबसेपहलेपढ़ेंNews18हिंदी|आजकीताजाखबर,लाइवन्यूजअपडेट,पढ़ेंसबसेविश्वसनीयहिंदीन्यूज़वेबसाइटNews18हिंदी|

Tags:Airpollution,DelhiGovernment,Delhi-NCRNews