दिल्ली में संतों की हुंकार, अब और इंतजार नहीं, राम मंदिर के लिए कानून बनाए सरकार

नईदिल्ली[जेएनएन]। राममंदिरकोलेकरराष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघनेमोदीसरकारपरघेराबढ़ादियाहै।रामलीलामैदानमेंविश्वहिंदूपरिषद(विहिप)कीधर्मसभामेंलाखोंरामभक्तोंऔरसाधुसंतोंकीमौजूदगीमेंसंघकेसरकार्यवाहभैयाजीजोशीनेदोटूककहाकिअबराममंदिरपरऔरइंतजारनहींकियाजाएगा।वहभीखनहींमांगरहेहैं।सरकारकोसंसदकेइसीशीतकालीनसत्रमेंकानूनबनाकरअयोध्यामेंभव्यराममंदिरकामार्गप्रशस्तकरनाहोगा।उन्होंनेकेंद्रसरकारकोयहभीयाददिलायाकिवहराममंदिरकेसंकल्पकेसाथसत्तामेंआईहै,ऐसेमेंवहकरोड़ोंलोगोंकीभावनाओंकाअनादरनकरे।

अयोध्या,मुंबई,नागपुरसमेत200सेअधिकस्थानोंपरधर्मसभाकेबादरविवारकोरामलीलामैदानधर्मसभाकाअगलापड़ावथा,जिसमेंलाखोंरामभक्तअंदरऔरबाहरथेतोमंचपरसैकड़ोंसाधु-संतविराजमानथे।सबकीजुबानपरकेवलरामकानामथा।भगवाझंडालहरातेरामभक्तोंकाजोशहिलोरेमाररहाथा।

भैयाजीजोशीनेकेंद्रसरकारकीओरइशाराकरतेहुएकहाकिहमउनसेहिंदूभावनाओंकेसम्मानकीआकांक्षाकरतेहैं।लोकतंत्रमेंजनआकांक्षाओंकीपूर्तिसत्ताकीप्राथमिकताहोनीचाहिए।इसकीउपेक्षायाअपमानकरतेहुएयहदेशकभीस्वाभिमानसेखड़ानहींहोसकताहै।सुप्रीमकोर्टद्वाराफैसलेमेंदेरीपरनाराजगीजतातेहुएउन्होंनेकहाकिजिसदेशमेंन्यायव्यवस्थाऔरन्यायकेप्रतिअविश्वासकाभावजगताहैउसदेशकाउत्थानहोनाअसंभवहै।इसलिएन्यायव्यवस्थाकोभीइसपरविचारकरनाचाहिए।

धर्मसभाकीअध्यक्षताकरतेहुएआचार्यमहामंडलेश्वरस्वामीअवधेशानंदगिरिनेकहाकिरामराष्ट्रचेतनावजीवनकामंत्रहैं।दिल्लीमेंउमड़ेजनसैलाबनेइतिहासरचदिया।इसअवसरपरउन्होंनेराममंदिरनिर्माणकेलिएसंकल्पभीदिलाया।साध्वीऋतंभरानेकेंद्रवउत्तरप्रदेशसरकारपरकटाक्षकरतेहुएकहाकिरामललाकीबातकहनेवालेठाठमेंआगए,जबकिरामललाटाटमेंहैं।वहींमहामंडलेश्वरस्वामीपरमानंदनेमोदीसरकारकोदोटूकचेतावनीदीकिअगरमंदिरनहींबनातोरामभक्तचुपनहींबैठेंगे।स्वामीहंसदेवाचार्यनेसुप्रीमकोर्टपरसवालउठातेहुएकहाकिअगरराममंदिरप्राथमिकतामेंनहींहैतोरामनवमीपरवेअवकाशक्योंलेतेहैं।दूसरीओरविहिपकेअध्यक्षविष्णुसदाशिवकोकजेनेकहाकिराममंदिरचुनावकानहीं,आत्मसम्मानकामुद्दाहै।

जयश्रीरामकेनारोंसेगूंजीदिल्लीकीसड़कें

रामलीलामैदानमेंआयोजितविश्वहिंदूपरिषदकीधर्मसभामेंदिल्लीऔरअन्यस्थानोंसेआएलोगोंकीवजहसेदिल्लीकीसड़केंजयश्रीरामकेनारोंसेगूंजउठीं।सुबहछहबजेसेहीश्रीरामभक्तोंकाजत्थारामलीलामैदानमेंजुटनाशुरूहोगयाथाऔरदेखतेहीदेखते10बजेतकरामलीलामैदानलोगोंसेखचाखचभरगया।इसकोदेखतेहुएपुलिसने10.30बजेरामलीलामैदानमेंप्रवेशकेसभीद्वारोंकोबंदकरदिया।इसकेबादलोगोंकोजबएकगेटसेनहींघुसनेदियातोलोगोंनेदूसरेऔरतीसरेगेटसेप्रवेशकरनेकाप्रयासकिया।जबप्रवेशनहींमिलातोलोगसड़कपरहीजयश्रीरामकानामजपतेहुएबैठगए।सड़कपरलगीएलईडीस्क्रीनपरपूराप्रसारणदेखतेरहे।

दिल्लीपुलिसकीअभेद्यसुरक्षाव्यवस्थाकेबीचसंपन्नहुईधर्मसभा

विश्वहिंदूपरिषदकीधर्मसभारविवारकोदिल्लीपुलिसकीअभेद्यसुरक्षाव्यवस्थाकेबीचसंपन्नहोगई।पुलिसप्रवक्तामधुरवर्माकेमुताबिकपुलिसआयुक्तअमूल्यपटनायककोतमामवरिष्ठअधिकारीसुबहसेदोपहरतकपल-पलकीजानकारीदेतेरहे।रविवारकोसुबहहोतेहीरामलीलामैदानकेचारोंतरफपांचदर्जनसेअधिककॉलोनियोंवमार्केटकीसड़कोंकोदिल्लीपुलिसनेबैरिकेडलगाकरपूरीतरहबंदकरदियाथाताकिकॉलोनीकेलोगरामलीलामैदानकीतरफनआपाएंऔरनहीइधरसेलोगकॉलोनियोंकीतरफजासकें।आसपासकीसड़कोंपरबड़ीसंख्यामेंपुलिसकर्मीतैनातकिएगएथे।करीब1500ऊंचीबिल्डिंगोंकीछतोंपरकमांडोतैनातकिएगएथेजोअत्याधुनिकहथियारोंवतेजक्षमतावालीदूरबीनसेलैसथे