चुनावों में 65 साल से ज्यादा के वोटरों को पोस्टल बैलट की सुविधा नहीं, सरकार ने दी जानकारी

नईदिल्ली,प्रेट्र।चुनावआयोगनेबिहारविधानसभाऔरअन्यउपचुनावोंमें65सालसेअधिकउम्रकेवोटरोंकोपोस्टरबैलटकीसुविधानहींदेनेकाफैसलाकियाहै।केंद्रसरकारनेबुधवारकोसंसदमेंयहजानकारीदी।

लोकसभामेंएकसवालकेलिखितजवाबमेंकेंद्रीयकानूनएवंन्यायमंत्रीरविशंकरप्रसादनेबतायाकियहफैसलाकोविड-19केलिएसाजो-सामान,मानवसंसाधनऔरसेफ्टीप्रोटोकॉलसेजुड़ीमुश्किलोंकेमद्देनजरलियागयाहै।

उन्होंनेकहा,'65सालसेअधिकउम्रकेव्यक्तियोंकीसुरक्षाकेमद्देनजरआयुसीमाघटानेकेलिएदकंडक्टऑफइलेक्शनरूल्स,1961कोसंशोधितकियागयाथा।जनप्रतिनिधित्वअधिनियम,1951कीधारा-169केतहत19जून,2020कोइसकीअधिसूचनाजारीकीगईथी।इसमेंराज्यसरकारोंकेसाथपरामर्शकीबाध्यतानहींहै।'रविशंकरनेकहाकिइसकेबादहीचुनावआयोगनेअधिनियमकीधारा-60(सी)केतहतअधिसूचनाजारीनहींकरनेकाफैसलालियाहै।

गौरतलबहैकिबिहारमेंजल्‍दविधानसभाचुनावहोनेवालेहैं।उम्‍मीदहैकिइसकीघोषणाजल्‍दहोगी।चुनावआयोगकीघोषणाकेअनुसार,नवंबरमेंचुनावहोनेकीउम्‍मीदहै।इसकेअलावामध्‍यप्रदेशकी28सीटोंसहितकईराज्‍योंमेंउपचुनावहोंगे।कोरोनावायरसकेबढ़तेमामलोंकेकारणचुनावकीप्रक्रियामेंबदलावकीउम्‍मीदहै।

कोरोनावायरसमहामारीकेदौरानचुनावकेलिएचुनावआयोगनेपिछलेदिनोंविस्तृतदिशा-निर्देशजारीकरदिए।इसकेमुताबिककुछमानकोंकेसाथरैलियोंऔरघर-घरप्रचारकीअनुमतिप्रदानकरदीगई।इसकेअलावामतदानकेदौरानइलेक्ट्रॉनिकवोटिंगमशीनों(ईवीएम)केबटनदबानेकेलिएवोटरोंकोग्लव्स(दस्ताने)उपलब्धकराएजाएंगेजोसंभवत:डिस्पोजेबलहोंगे।

मतदाताओंकीहोगीथर्मलस्क्रीनिंग

मतदानकेंद्रोंपरमतदाताओंकीथर्मलस्क्रीनिंगभीकीजाएगीऔरक्वारंटाइनमेंरहरहेकोविड-19मरीजोंकोआखिरीघंटेमेंमतदानकीअनुमतिहोगी।महामारीकेइसदौरमेंबिहारपहलाराज्यहोगाजहांविधानसभाचुनावकराएजाएंगे।इसकेपहलेमध्यप्रदेशमेंदोदर्जनसेज्यादासीटोंपरउपचुनावभीहोनेहैं।

एकमतदानकेंद्रमेंएकहजारमतदाता

चुनावआयोगकेमुताबिक,अधिसूचितकंटेनमेंटजोनमेंरहनेवालेमतदाताओंकेलिएअलगसेदिशा-निर्देशजारीकिएजाएंगे।शुक्रवारकोजारीदिशानिर्देशोंकेमुताबिकमतदानकेंद्रोंकाअनिवार्यरूपसेसैनिटाइजेशनकियाजाएगाजोमतदानसेएकदिनपहलेहोगा।हरमतदानकेंद्रकेप्रवेशद्वारपरचुनावकर्मीयापैरा-मेडिकलस्टाफमतदाताओंकीथर्मलस्क्रीनिंगकरेंगे।एकमतदानकेंद्रमें1,500केस्थानपरअधिकतमएकहजारमतदाताहीहोंगे।