चीन विवाद: मनमोहन सिंह के बयान को विदेश मंत्रालय ने बताया राजनीतिक, कहा- हमारे तथ्य स्पष्ट

नईदिल्‍ली,17फरवरी:पूर्वप्रधानमंत्रीमनमोहनसिंहनेमोदीसरकारकीआर्थिकऔरविदेशीनीतियोंपरसवालउठाएहैं।इसकेअलावाउन्होंनेलद्दाखमेंएलएसीकेपासचीनीसेनाकेजमावड़ेकोभीगंभीरमुद्दाबताया।येबयानपूर्वप्रधानमंत्रीकाथा,जिसवजहसेतुरंतभारतीयविदेशमंत्रालयभीएक्टिवहुआऔरमनमोहनसिंहकेबयानपरसरकारकापक्षरखा।इसकेअलावायूक्रेनमेंफंसेभारतीयपरभीविदेशमंत्रालयनेप्रतिक्रियादी।

मनमोहनसिंहनेकहाकिमोदीसरकारआजकीसमस्याओंजैसे-महंगाई,बेरोजगारीआदिकोसुलझानेकेबजाएनेहरूपरअटकीहै।उन्होंनेमहंगाई,बेरोजगारी,विदेशनीतिआदिमेंभीमोदीसरकारकोफेलबताया।मनमोहनसिंहकेमुताबिकचीनीसेनाहमारीसरहदोंपरहैऔरसरकारतथ्यदबानेकीकोशिशकररहीहै।इसपरविदेशमंत्रालयकेप्रवक्ताअरिंदमबागचीनेकहाकिहमारीनजरमेंयेराजनीतिकबयानहै।जहांतकचीनसेविवादकामामलाहै,वहांहमारेतथ्यस्पष्टहैं।मुझेउन्हेंदोहरानेकीजरूरतनहींहै,हमचीनकेसाथबातचीतकीप्रक्रियाओंकोचलरहेहैं।

'बिनबुलाएजाकरबिरयानीखानेसेनहींसुधरतेअंतर्राष्ट्रीयरिश्ते',मोदीसरकारपरपूर्वपीएममनमोहनकाहमला

यूक्रेनविवादपरप्रवक्तानेकहाकिजबहमकोईएडवाइजरीजारीकरतेहैं,तोहमउसमेंहोरहेघटनाक्रमोंकेसाथ-साथइसबातकाआंकलनभीकरतेहैंकिहमवहांअपनेनागरिकोंकीसहायताकैसेकरसकतेहैं।हमाराध्यानभारतीयनागरिकों,भारतीयछात्रों,भारतीयनागरिकोंपरहै।उन्होंनेकहाकियूक्रेनसेभारतीयोंकीतत्कालनिकासीकीकोईयोजनानहींहै,इसलिएकोईविशेषउड़ानअभीनहींचलाईजारहीहै।वहींएयरबबलव्यवस्थाकेतहतजोसीमितउड़ानोंकीसंख्याथी,उन्हेंहटादियागयाहै।इसकेअलावासरकारकीकोशिशहैकियूक्रेनसेज्यादासेज्यादाविमानोंकासंचालनभारतकेलिएकियाजासके।