बलाचौर में नहीं रुक रहा नाड़ जलाने का सिलसिला

संवादसहयोगी,बलाचौर:बलाचौरकेआसपासकेगांवोंमेंगेहूंकीकटाईकेबादखेतोंमेंनाड़औरअन्यअवशेषोंकोजलानेकासिलसिलाजारीहै।कृषिविभागकेजागरूकताकार्यक्रमोंकाभीकिसानोंपरकोईअसरनहींदिखरहाहै।इसतरहकीएकघटनाबलाचौर-गढ़शंकरमार्गपरचुश्माकेपासहुई।किसानोंद्वारागेहूंकीनाड़कोलगाईगईआगसेपूरीसड़कधुएंसेढंकीहुईथीऔरवाहनचालकमुश्किलसेअपनेवाहनोंकोपारकरपारहेथे।ऐसेमेंमोटरसाइकिलसवारऔरस्कूटरचालककोकाफीमुश्किलोंकासामनाकरनापड़ाऔरकाफीदेरतकहादसेकामाहौलबनारहा।

प्राप्तजानकारीकेअनुसारसड़ककेकिनारेनियम-कायदोंकाउल्लंघनकरकेनाड़अन्यअवशेषोंमेंआगलगाईगई।इससेबड़ीमात्रामेंघनाधुंआनिकलरहाथा,जोयातायातमेंबड़ाविघ्नपैदाकररहाथा।पक्षीभीजानबचानेकेलिएइधर-उधरभागतेदेखेगए।वहींकृषिविभागकाकहनाहैकिखेतोंमेंखड़ीगेहूंकीनाड़जलानेसेकिसानोंकेअनुकूलकीड़ेमरजातेहैं,जिससेअगलीफसलकीउपजप्रभावितहोरहीहै।नाड़केजलनेसेसड़कोंपरहादसोंकीसंख्याभीबढ़रहीहै।