बजट में समाज के हर वर्ग का रखा जाए ख्याल

जागरणसंवाददाता,गुमला:उम्मीदोंकाकोईअंतनहींहोता।लोगोंकेमनमेंउम्मीदहिलोरामारतेरहतीहै,उम्मीदजगतेरहतीहै।राज्यकेहेमंतसोरेनसरकारसेगुमलाजैसेजनजातीयक्षेत्रसेउम्मीदेंबढीहै।कारणयहहैकिइसजिलाकेतीनोंविधानसभाक्षेत्रकेलोगोंनेभारीबहुमतसेझामुमोसेविधायकचुननेकाकामकियाहै।लोगोंकीउम्मीदोंमेंउनकीसमस्याओंकासमाधानऔरउनकेउम्मीदोंकेअनुरुपमांगकेसंदर्भमेंबजटमेंस्थानमिलनाहै।बजटसेकिसान,गृहणी,शिक्षकोंवलोगोंकीउम्मीद।::::::::::::::::::::::

गुमलाजिलाउद्योगविहीनजिलाहै।रोजगारऔरपलायनयहांकीमुख्यसमस्याहै।रोजगारकेमाध्यमसेपलायनरोकनेकाकामकरेंगे।ब्यापारियोंकोराहतदेनेकाभीकामकरेंगेऐसीमुझेउम्मीदहै।

रमेशकुमारचीनी,पूर्वअध्यक्षगुमलाचैंबर।वित्तमंत्रीडॉ.रामेश्वरउरांवगुमलासेजुड़ेरहेहैं।शहरकीगलियोंऔरगांवोंकीसमस्यासेअवगतहैं।ऐसीस्थितिमेंबजटमेंवेऐसाप्रावधानकरेंगेजिससेबेरोजगारोंकोरोजगारमिलसके।व्यापारियोंकोव्यापारकरनेकीसुविधावसुरक्षामिलसके

उपेंद्रसाहु,सदस्यगुमलाचेंबर।

आमजनताकेहितोंकाखयालरखाजाएगा।बजटआमजनताकोध्यानमेंरखकरपेशकियाजाएगा।जनताकीबुनियादीसमस्याकासमाधानहोनेकीउम्मीदकीजारहीहै।वैसेतोबजटआनेकेबादहीसरकारकीमंशाऔरनजरियास्पष्टहोगी।श्रीकांतशर्मा।

गांव-गांवमेंशिक्षाकीव्यवस्थाकरने,शिक्षकोंकीकमीकोदूरकरने,शिक्षकोंकीमूलभूतसमस्याओंकासमाधानकरनेकीहमेंवित्तमंत्रीसेउम्मीदहै।वित्तमंत्रीकाशिक्षापरजोररहाहै।इसलिएशिक्षकोंकेसमस्याओंकासमाधानकरनेकीहमउम्मीदकरतेहैं।निरंजनशर्मा,

शिक्षकनेतागुमला।

गांवोंमेंसंचालितविद्यालयोंमेंशिक्षकोंकाजोअसंतुलनहैऔरशिक्षकोंकीप्रोन्नतिकामसलाहैउसदिशामेंबजटसेहमेंएकनईउम्मीदजगीहै।शिक्षाहीविकासकाआधारहै।सामान्यशिक्षाकेसाथसाथबालिकाऔरमहिलाशिक्षाकेक्षेत्रमेंबहुतकुछकरनेकीइससरकारसेउम्मीदहै।सुनीलकुमार,शिक्षकगुमला

सरकारघरेलूमहिलाओंकाविशेषख्यालरखेगी।इससरकारसेमहिलासशक्तिकरणकेक्षेत्रमेंप्रभावीकदमउठाएजानेकीउम्मीदहै।महिलाओंकोरोजगारसेजोड़नेऔरविकासमेंसहभागिताबढ़ानेकीदिशामेंयहसरकारबजटमेंविशेषप्रावधानकरेगी।साथहीसाथजनप्रतिनिधित्वकी²ष्टीकोणसेयहसरकारमहिलाआरक्षणकेअपनेवादेकोनिभाएगी।

सुनीताकुमारी,गृहिणीकरमटोलीगुमला।

बजटसेग्रामीणसुविधाओंकेविस्तारकीउम्मीदबंधीहै।इनसुविधाओंकेविस्तारकीउम्मीदबढ़नेकाआधारयहहैकिमहागठबंधनकेदोनोंप्रमुखघटकदलोंमेंहरहाथकोकामऔरहरखेतकोपानीदेनेकावादाविधानसभाचुनावकेदौरानकियाथा।ग्रामीणविकासमेंसिचाईसुविधाओंकीवृद्धिकिसानोंकीकर्जमाफी,गांवोंमेंशुद्धपेयजलकीउपलब्धता,बिजली,सड़क,स्वास्थ्यऔरशिक्षाजैसेमुद्देशामिलहैं।

गांवमेंतोबिजलीपहुंचगईहै।लेकिनखेतोंमेंपानीनहींपहुंचीहै।विधानसभामेंराज्यसरकारद्वारापेशकिएजानेवालेबजटमेंमैंयहउम्मीदकरताहूंकिवित्तमंत्रीडा.रामेश्वरउरांवगुमलाजिलाकेगांवोंसेअवगतहैें।समस्याओंकोजानतेहैंऔरपहलेभीसमाधानकाआश्वासनदिएहैंइसलिएखेतोंकोपानीमिलेइसकाबजटमेंप्रावधानकरेंगे।

सुरेंद्रउरांव,अजियातु।

सुविधाकेनामपरभवनबनाकरछोड़दियाजाताहै।लेकिनकिसानोंकेखेतऔरआदिवासियोंकेगांवोंमेंपानीनहींपहुंचताहै।यदिखेतोंमेंपानीपहुंचजाएतोगांवखुशहालहोजाएगा।राज्यकेवित्तमंत्रीडा.रामेश्वरउरांवअर्थशास्त्रीहैंआदिवासीक्षेत्रोंकेज्ञाताहैं।वैसेमेंग्रामीणविकासएवंरोजगारकोप्राथमिकतादेतेहुएवेबजटपेशकरेंगे।

तेंबुउरांव,जिपसदस्यघाघरा।

बजटसेहमेंबहुतबड़ीउम्मीदयहहैकिसरकारग्रामीणस्तरपररोजगारमुहैयाकरानेकाबजटमेंप्रावधानकरेगी।वित्तमंत्रीस्वयंशनिवारकोबिशुनपुरआएथे।वेअर्थशास्त्रीहैंइसलिएबजटसंतुलितहोगा।ग्रामीणोंकेहितमेंपेशकियाजाएगा।जिससेगांवोंमेंशिक्षा,स्वास्थ्य,स्वरोजगारऔरवनोत्पादकोबढ़ावादेनेवालीयोजनाएंउसमेंसमाहितकीजाएगी।

महेंद्रभगत,सामाजिककार्यकर्तासहकिसान,बिशुनपुर।

झारखंडराज्यकेबजटमेंकृषिविकासकेलिएठोसयोजनाबनेयहीहमलोगोंकीउम्मीदहै।यहइसलिएकिहमलोगोंकामुख्यपेशाकृषिहैऔरहमचाहतेहैंकिहमारेखेतोंतकबिजलीपहुंचेऔरसिचाईकीसुविधामिले।घरमेंतोबिजलीजलरहीहै।सरकारसेउम्मीदहैकिबिजलीआधारितसिचाईपरियोजनाकोगांवगांवतकपहुंचाकरसिचाईलागतकोकमकरेगी।जिससेकिसानोंमेंखुशहालीआसके।

गंदुरउरांव,किसानछोटाअजियातु।