बजट और रेल मंत्रालय की अनुदान मांगों पर चर्चा के लिए देर रात तक बैठी संसद

जागरणब्यूरो,नईदिल्ली। गुरुवारकोएकबारफिरसाबितहोगयाकिसंसदचाहेतोवक्तकीबर्बादीकीभरपाईमुश्किलनहींहै।गुरुवारकोलोकसभाऔरराज्यसभादोनोंमेंदेरराततकबजटऔररेलमंत्रालयकीअनुदानमांगोंपरचर्चाहुई।कोशिशयहरहीकिजोभीसदस्यबोलनाचाहेउसेअवसरमिले।

संसदीयकार्यमंत्रीप्रह्लादजोशीनेबतायाकिरेलवेकेलिएअनुदानमांगोंपरलोकसभामेंगुरुवाररात11.58बजेतकचर्चाहुई।लगभग18सालमेंऐसापहलीबारहुआकिलोकसभाइतनीराततकबैठी।जोशीनेबतायाकिगुरुवारदोपहरबादचर्चाशुरूहुईथी।लगभग100सदस्योंनेचर्चामेंहिस्सालिया।जोशीनेकहाकिइतनीदेरतकलोकसभाकाबैठनाएकरिकॉर्डहै।

पिछलेतीनचारदिनोंसेखासतौरपरराज्यसभाजहांविपक्षकाबहुमतहैवहांकार्यवाहीबाधितरही।कर्नाटककेमुद्देपरसदनकीकार्यवाहीबार-बारस्थगितहोतीरही।औरइसीकारणबजटपरचर्चापूरीनहींहोपाई,लेकिनगुरुवारकोसरकारऔरविपक्षनेआपसीसमझसेतयकरलियाकिदेरराततकइसेपूराकरहीकार्यवाहीस्थगितकीजाएगी।यहीहुआभी।सामान्यतयाकार्यवाहीछहबजेतकस्थगितहोजातीहै।

बजटमेंगरीब,किसानवबेरोजगारोंकीउपेक्षाकाआरोपराज्यसभामेंविपक्षनेबजटकोऐसादस्तावेजबतायाजिसमेंगरीबों,किसानोंतथाबेरोजगारोंकेलिएठोसयोजनाओंकेबजायअवास्तविकलक्ष्यपेशकिएगएहैं।दूसरीओरभाजपानेयेकहकरबजटकाबचावकियाकिइससेविकासकोगतिमिलेगी।

राज्यसभामेंबजटपरचर्चामेंभागलेतेहुएकांग्रेसकेवरिष्ठनेतावपूर्ववित्तमंत्रीपी.चिदंबरमनेवित्तमंत्रीनिर्मलासीतारमणकीयेकहतेहुएखिंचाईकीकिउन्होंनेबजटभाषणमेंराजस्वप्राप्तियोंऔरखर्चोसमेतअर्थव्यस्थाकेवृहतआंकड़ेतकनहींबताएहैं।जबकिआमजनताबजटकेकागजातनहींपढ़ती,बल्किवित्तमंत्रीकोसुनतीहै।

चिदंबरमनेजीडीपीकास्पष्टअनुमाननदिएपरभीसवालउठायाऔरकहासरकारऔरमुख्यआर्थिकसलाहकारअलग-अलगअनुमानबतारहेहैं।अगरभारतकेमहालेखाकारकेजीडीपीआंकड़ोंकेआधारपरविकासदरकेअनुमानकोदेखाजाएतोयह7फीसदबैठतीहै,लेकिनवित्तमंत्रीने8फीसदविकासदरकाअनुमानलगायाहै।एकप्रतिशतकाअंतरकाफीबड़ाहोताहै।

यहीनहीं,पिछलेवर्षजीएसटीसंग्रहकेवल3.38फीसदबढ़नेकेबावजूदइसवर्षइसमें45फीसदबढ़ोतरीकाहवाईअनुमानलगायागयाहै।इसतरहआपखर्चकेलक्ष्यकैसेपूरेकरेंगे।बजटमेंसंरचनात्मकसुधारोंकीचर्चातोहै,मगरएकभीसुधारदिखाईनहींदेता।विकासकेलिएखपतआवश्यकहै,लेकिनगिरतीखपतसेआपनिवेशकेलिएसंसाधनकहांसेजुटाएजाएंगे।तीनवर्षतकसकलफिक्सपूंजीनिर्माण28.5तीनस्थिररहाहैजोवर्ष2018-19मेंजाकर29.5फीसदहुआ।जबकिकभीये34.5फीसदथा।

एनडीएसरकारकेपांचवर्षोमेंअर्थव्यवस्थासुस्तरहीहै।पिछलेवर्षकोछोड़,चारवर्षोमेंनिर्यात300अरबडालरसेआगेनहींबढ़ा।ऐसेमेंआपकहांसेकहतेहैंकिनिवेशबढ़ानेकेलिएघरेलूबचतबढ़नाजरूरीहै।मगरघरेलूबचतकरनेवालेमध्यमवर्गकेलिएआपनेक्याकिया।जबबचतनहींबढ़ेगीतोनिवेशकेलिएअतिरिक्तपैसाकहांसेआएगा।प्रत्यक्षविदेशीनिवेश(एफडीआइ)भीकहांबढ़रहाहै।

आपनेसकलएफडीआइ64.37अरबडालरबढ़नेकीबातकहीहै।लेकिनशुद्धएफडीआइकहांबढ़ाहै।चर्चामेंभागलेतेहुएतृणमूलकांग्रेसकेसुखेंदुशेखररायकाकहनाथाकिबजटनतोबेरोजगारयुवाओंकीउम्मीदेंबढ़ाताहैऔरनबुजुर्गोकी।वित्तमंत्रीनेबजटछपतेवक्तहलवाबांटाथा,लेकिनकुछहलवाआमआदमीकोभीतोमिलता।

माकपाकेडी.राजानेकहाकिबजटमेंवास्तविकमुद्दोंकोछोड़दियागयाहै।यहांतककिनिजीनिवेशबढ़ानेकेलिएइसमेंकुछनहींहै।उन्होंनेलाभदायकपीएसयूकोबेचनेकीयोजनाकाविरोधकियाऔरसरकारसेजाननाचाहाकिउसनेसामाजिकक्षेत्र,शिक्षा,स्वास्थ्यतथामनरेगा,अल्पसंख्यकोंतथाएससी/एसटीकेलिएबजटमेंकितनाआवंटनकियाहै।

विपक्षीनेताओंकाकहनाथाकिकिसानोंकीसमस्याओं,आर्थिकमंदी,औद्योगिकसुस्तीतथाबेरोजगारीपरबजटएकदमचुपहै,लेकिनभाजपाकेप्रभातझानेविपक्षकीआलोचनाकोखारिजकरदिया।उन्होंनेकहाकिवास्तवमेंयेगरीबोंकाबजटहै।इसमेंकृषिक्षेत्रकेलिएआवंटनमेंखासीबढ़ोतरीकीगईहै,जिससेविकासदरबढ़ेगी।

उन्होंनेकहाकांग्रेसनेदसदिनोंमेंकिसानोंकाकर्जमाफकरनेकेवादेकेसाथहालमेंपांचराज्योंमेंसरकारबनाईहै।लेकिनअभीभीकर्जमाफनहींहुआहै।जुर्मआपकरेंऔरआरोपहमपरमढ़दें।

भाजपाकेअनिलजैननेराज्यसभामेंअपनेपहलेभाषणमेंबजटकीतारीफकी।उन्होंनेकहापूर्वमेंगरीबीहटाओकेनारेखूबदिएगएपरकियाकुछनहींगया।जबकिमोदीसरकारनेगरीबोंकेलिएसचमुचमेंकामकरउनकीदशाबदलीहै।पहलेहर15दिनमेंघोटालेहोतेथे।जबकिअबहर15रोजमेंगरीबोंकेलिएकोईयोजनाआतीहै।

रेलकोलेकरभीआरोपप्रत्यारोप

कांग्रेसपार्टीनेमोदीसरकारपररेलकीपरिसंपत्तियोंकोबेचनेकाआरोपलगायाहै।विपक्षीपार्टीकाकहनाहैकिभाजपाकेनेतृत्ववालाएनडीएजमीनपरज्यादाकुछकरनेकेबजायलोगोंकोसपनेबेचरहाहै।वहींभाजपानेविपक्षकेआरोपोंकोदरकिनारकरतेहुएरेलदुघर्टनाओंमेंबीतेपांचसालमें73प्रतिशतकीकमीआनेकादावाकियाहै।

रेलमंत्रालयकीअनुदानकीमांगोंपरचर्चाकीशुरुआतकरतेहुएलोकसभामेंकांग्रेसकेनेताअधीररंजनचौधरीनेकहाकिनागरविमाननमंत्रीएयरइंडियाकोबेचनाचाहतेहैंजबकिरेलमंत्रीरेलकीपरिसंपत्तियोंकोबेचनाचाहतेहैं।भाजपाकेनेतृत्ववालीएनडीएसरकार2014मेंसत्तामेंआनेकेबादलगातारअपनेलक्ष्यहासिलकरनेमेंअसफलरहीहै।

सरकारपरनिशानासाधतेहुएचौधरीनेकहाकिबजटमेंरेलपर50लाखकरोड़रुपयेखर्चकरनेकीबातकहीगयीहैजबकिरेलमंत्रीपीयूषगोयलकेपूर्ववर्तीसुरेशप्रभुने8.5लाखकरोड़रुपयेखर्चकरनेकादावाकियाथा,उसकाक्याहुआ।

चर्चामेंभागलेतेहुएभाजपासदस्यसुनीलकुमारसिंहनेकहाकिरेलदुर्घटनाओंमें2014से2019केदौरान73प्रतिशतकीकमीआईहै।उन्होंनेपूर्ववर्तीकांग्रेससरकारोंपरनिशानासाधतेहुएकहाकिउनकेकार्यकालमेंपार्टीऔरउनकेनेताओंकेहितप्राथमिकतामेंऊपरथेजबकिएनडीएसरकारकेलिएदेशहितसबसेऊपरहै।

उन्होंनेकहाकिरेलकीस्थितिऔरप्रदर्शनअबपहलेसेकाफीबेहतरहै।भाजपाकेएकओरसदस्यगोपालचिनय्याशेट्टीनेपीपीपीमॉडलकोबढ़ावादेनेपरजोरदियाऔरकहाकिइससेदेशकीप्रगतिकोप्रोत्साहनमिलेगा।खबरलिखेजानेतकरेलमंत्रालयकीअनुदानकीमांगोंपरलोकसभामेंदेरराततकजारीरही।