Bihar Assembly Elections 2020: कोसी और सीमांचल के चुनावी दंगल में डेढ़ दशक से अब धनकुबेर लगा रहे दाव

कटिहार[प्रकाशवत्स]।नेपालवबांग्लादेशकीसरहदसेलगेसीमांचलकेइलाकोंमेंकालक्रमानुसारसियायतकारंगबदलतारहाहै।1990केबादराजनीतिमेंबाहुबलियोंकीजोरदारइंट्रीनेयहांकीसियासीफिजाकोलगभग20वर्षोंतकपूरीतरहबदरंगरखा।2005केबादएकनएट्रेंडमेंयहांसियायतकैदहोतीगई।खासकर2010केचुनावसेधनकुबेरोंकीदिलचस्पीचुनावीदंगलमेंबढऩेलगीऔरपर्देकेपीछेसेबड़ेसंवेदककेसाथपूंजीपतिइसमेंदावलगानेलगे।इसचुनावमेंभीधनकुबेरोंकाएकबड़ावर्गपर्देकेपीछेसेइसदंगलमेंअपनीअहमभूमिकानिभारहेहैं।

दलकीबजायप्रत्याशियोंपरलगताहैदाव

इसट्रेंडकीएकबड़ीखासियतहैकिइसमेंदावलगानेवालोंकोकिसीदलसेकोईलेना-देनानहींहोताहै।वेचयनितप्रत्याशियोंकेलिएदावलगातेहैं।टिकटलेनेसेलेकरचुनावखर्चतकमेंउनकानिवेशहोताहैऔरफिरसंबंधितप्रत्याशीकेचुनावजीतनेपरवेइसकाइस्तेमालअपनेफायदेकेलिएकरतेहैं।सीमांचलमेंदोदर्जनसेअधिकऐसेउद्योगपति,बड़ेव्यवसायीवसंवेदकभीहैं,जोएकसाथकईप्रत्याशीपरअपनादावलगातेहैं।टिकटमैनेजकरनेसेलेकरचुनावप्रचार-प्रसारतककेलिएआवश्यकसंसाधनउन्हेंमुहैयाकरायाजाताहै।

अलग-अलगगुटोंमेंबंटाहैसंवेदकोंवपूंजीपतियोंकीटोली

सीमांचलकेपूर्णिया,कटिहार,अररियावकिशनगंजमेंऐसेलोगोंकीटोलीअलग-अलगगुटोंमेंबंटाहुआहै।जिलाकीसीमासेपारसंवेदकोंवपूंजीपतियोंकायहगुटबनाहुआहै।सुनियोजिततरीकेसेयहपूराखेलखेलाजाताहै।

योजनाओंकेचयनसेलेकरकामकेबंटवारेमेंहोताहैखेल

यूंतोबड़ेसंवेदकोंकीइसमेंदिलचस्पीकुछज्यादाहोतीहै।इसकेअलावाबालू-गिट्टीकेबड़ेकारोबारीसेलेकरभवननिर्माणसेलेकरभवनोंकेसाज-सज्जाकेबड़ेसप्लायरसहितअन्यलोगभीइसमेंदावलगातेहैं।चुनावजीतनेकेबादऐसेप्रत्याशियोंकेयोजनाचयनमेंभीइनलोगोंकासीधाहस्तक्षेपहोताहै।सामानोंकीआपूर्तिसेलेकरअन्यमामलोंमेंवेअपनीरोटीसेंकतेहैं।यहीनहींअवैधकारोबारमेंऐसेजनप्रतिनिधिबादमेंउनकेलिएछत्रछायाबनतेहैंऔरशासन-प्रशासनवकारोबारकेबीचभीदीवारबनकरखड़ेरहतेहैं।