बिहार में कोरोना संक्रमण खत्म होने पर ही पंचायत चुनाव, 20 मई तक इंतजार करेगा आयोग

अरुणअशेष,पटना:राज्यनिर्वाचनआयोगकीपूरीतैयारीकेबावजूदसमयपरपंचायतचुनावकीसंभावनाखत्महोरहीहै।चुनावपरविचारकरनेकेलिएआयोगने21अप्रैलको15दिनोंकासमयलियाथा।उम्मीदथीकिइनदिनोंमेंकोरोनाकीरफ्तारकमहोगी।लेकिन,नौदिनबीतजानेकेबादकोरोनाकीरफ्तारकमहोनेकेबदलेबढ़गईहै।लिहाजा,आयोगमानकरचलरहाहैकिअगलेछह-सातदिनोंमेंभीहालातइसकदरनहींसुधरेंगे किचुनावकीघोषणाकीजासके।

अधिकसेअधिक20मईतकइंतजार

आयोगकेसूत्रोंनेबतायाकिवहअधिकसेअधिक20मईतकइंतजारकरसकताहै।इसदौरमेंसंक्रमणकीदरमेंभारीगिरावटआईतोचुनावकीअधिसूचनाजारीहोसकतीहै।तबदोयातीनचरणोंमेंमतदानकराएजासकतेहैं।इसकेलिएअधिकइवीएमकीजरूरतहोगी।क्योंकिकहींऔरचुनावनहींहै,इसलिएदूसरेराज्योंमेंबड़ीसंख्यामेंमशीनेंमंगाईजासकतीहैं।तीनचरणोंमेंचुनावकरानेकेलिएसुरक्षाकाइंतजामभीहोसकताहै।मगर,20मईकेबादआयोगचुनावकरानेकाजोखिमनहींउठाएगा।इसलिएभीकिजूनकेपहलेसप्ताहमेंमानसूनकाप्रवेशहोजाएगा।बरसातकेदिनोंमेंउत्तरऔरपूर्वीबिहारमेंचुनावकरानेकीस्थितिनहींरहतीहै।

एकसाथदोनोंविकल्पोंपरविचारकररहीसरकार

जिलापरिषदसदस्य,मुखिया,सरपंच,पंचायतसमितिसदस्य,पंचऔरवार्डसदस्योंकेकरीबढाईलाखपदोंकेलिएचुनावहोनाहै।पंचायतीसंस्थाओंकेवर्तमानप्रतिनिधियोंकाकार्यकाल15जूनकोसमाप्तहोरहाहै।राज्यसरकारएकसाथदोनोंविकल्पोंपरविचारकररहीहै।चुनावऔरचुनावनहोनेकीहालतमेंपंचायतोंकेअधिकारकिसेदियाजाएगा।नईव्यवस्थाकेलिएअध्यादेशलानाहोगा।

समयपरपंचायतचुनावनहोतोपंचायतीराजसंस्थाओंकेअधिकारकिसेदिएजाएं,बिहारपंचायतीराजअधिनियममेंइसकाकोईउल्लेखनहींहै।लिहाजावैकल्पिकव्यवस्थाकरनेकेलिएराज्यसरकारकोअध्यादेशलानाहोगा।विचारइसपरभीकियाजासकताहैकिपंचायतीराजसंस्थाओंकेकार्यकालकाविस्तारकियाजाए।पड़ोसीराज्यउत्तरप्रदेशमेंचुनावटलाथा।अध्यादेशजारीहुआ।पंचायतीराजसंस्थाओंकाकार्यकालनहींबढ़ा।प्रशासकबहालकरदिएगए।यहस्थितिविधानसभाकीतरहहै,जबकार्यकालपूराहोनेतकअगरचुनावनहींहुएतोराष्ट्रपतिशासनलागूहोजाताहै।

कठिनसमयहै:सम्राट

पंचायतीराजमंत्रीसम्राटचौधरीनेकहाकिचुनावकबहोंगे,इसकाफैसलाआयोगकरेगा।राज्यसरकारफंडऔरअन्यइंतजामकरतीहै।सरकारवहकामकरचुकीहै।कहसकतेहैंकिहमसबकठिनदौरसेगुजररहेहैं।आजकीतारीखमेंचुनावकरानासंभवनहींलगरहाहै।अगलेकुछदिनोंमेंस्थितियांबदलजाएतोअलगबातहै।

तमिलनाडूमेंकोरोनाकालमेंविधानसभाचुनावकरानेकोलेकरमद्रासहाईकोर्टकीतल्खटिप्पणीसेराज्यसरकारडरीहुईहै।ऐसेमेंवहचुनावकीघोषणाकरहाईकोर्टकीनाराजगीझेलनेकासाहसनहींजुटापारहीहै।संभावनाहैकिकोईव्यक्तिकोर्टचलाजाएऔरमद्रासहाईकोर्टकीटिप्पणीकेआधारपरचुनावस्थगनकीमांगकरे।इसकीसंभावनाभीहै।इसलिएराज्यसरकारचुनावकेमामलेमेंसबकुछराज्यनिर्वाचनआयोगपरछोड़रहीहै।