भाजपा का दावा, दिल्ली नगर निगम को नहीं मिले हैं दिल्ली सरकार के 938 करोड़ रुपये

नईदिल्ली[नेमिषहेमंत]।दिल्लीनगरनिगमकर्मचारियोंकेजारीहड़तालकेबीचउत्तरीवपूर्वीदिल्लीकेमहापौरोंनेदावाकियाहैकिदिल्लीसरकारद्वाराकर्मचारियोंकेवेतनमदमेंजारी938करोड़रुपयेअबतकनिगमकोनहींमिलेहैं।प्रेसवार्तामेंयहदावाकरतेहुएउत्तरीकेमहापौरजयप्रकाशवपूर्वीदिल्लीकेनिर्मलजैननेबतायाकिदिल्लीसरकारकीओरसेजबभीकोईराशिजारीहोतीहैतोउसकेलिएपहलेस्वीकृतिनोटबनायाजाताहै।उसकेजरिएफाइलकोमंजूरीमिलतीहै।परहमेंपताचलाहैकिअभीतकइसतरहकीकोईप्रक्रियापूरीहीनहींकीगईहै।सरकारकीओरसेयहभीस्पष्टनहींकियागयाहैकिकिसनिगमकोकितनाहिस्सामिलेगा?अगरयहराशिवेतनअदायगीकेलिएहैतोअनुदान(ग्रांटइनएड)कीतीसरीकिश्तकबदीजाएगी?जिससेकर्मचारियोंकाऔरवेतनदेनेमेंसहायतामिलेगी।

इसमौकेपरउत्तरीकेस्थायीसमितिकेअध्यक्षछैलबिहारीगोस्वामीऔरसदनकेनेतायोगेशवर्मामौजूदरहे।जयप्रकाशनेकहाकिसालकीचौथीतिमाहीशुरूहोगईहै।तीसरीतिमाहीकापैसाआमतौरपरजनवरीमहीनेकेपहलेसप्ताहमेंदिल्लीसरकारद्वाराजारीकरदियाजाताथा।अबजबकिजनवरीकादूसरासप्ताहभीखत्महोगयाहै।उसपैसेकाकोईअता-पतानहींहै।कोरोनामहामारीकेचलतेमोदीसरकारनेऋणकेलिएईएमआईमेंछूटदीहै,लेकिनदिल्लीसरकारनेकोरोनाकाबहानाबनाकरनगरनिगमकेबीटीएकेरूपमेंनिर्धारित850करोड़रुपयेमेंभीभारीकटौतीकीहै।इसमदमेंअकेलेउत्तरीका500करोड़रुपयेबकायाहै।महापौरनेआरोपलगायाकिमई2020सेउत्तरीकादिल्लीसरकारपर446करोड़रुपयेबकायाहै।उसमेंसे336करोड़रुपयेसरकारनेऋणमेंसमायोजितकरकाटलियाहै।

यहस्थितितबहैजबकिकेंद्रसरकारईएमआईमेंसुविधादेरहीहै।पूर्वीदिल्लीकेमहापौरनिर्मलजैनकहाकिसरकारद्वाराकाटीगईराशिसेनगरनिगमकेकर्मचारियोंकोवेतनदियाजासकताथा।नगरनिगमकेकर्मचारीहड़तालपरहैं,उनकेपरिवारपरेशानहैं,गंदगीकेढेरलगरहेहैं।

जयप्रकाशनेकहाकियदिसरकारचाहतीहैकिदिल्लीवालोंकोसुविधाएंमिलसकें।सफाईहोसके।निगमकेकर्मचारीअपनीजिम्मेदारियोंकोसहीढंगसेनिभासकेंतोदिल्लीसरकारनेजोपैसाकाटाहै,वहजारीकरें।इसकेसाथहीतीनोंनगरनिगमोंकाबकाया13हजारकरोड़रुपयेभीजारीकरें।

Coronavirus:निश्चिंतरहेंपूरीतरहसुरक्षितहैआपकाअखबार,पढ़ें-विशेषज्ञोंकीरायवदेखें-वीडियो