बांबे नगर निगम की तर्ज पर 1958 में अस्तिव में आया था दिल्ली नगर निगम, चांदनी चौक में था मुख्यालय

नईदिल्ली,पीटीआइ।पुरानेरिकार्डकेअनुसारदिल्लीकाएकीकृतनगरनिगम1958मेंअस्तित्वमेंतबआयाजबकईसारीस्थानीयनिकायोंकोमिलाकरएककियागया।समाचारएजेंसीपीटीआइनेजबपुरानेदस्तावेजोंकोखंगालातबयहपताचलाकिबांबेनिगरनिगमकीतर्जपरदिल्लीकेनिगमकोबनायागयाथा।इसमेंकईएक्सपर्टोंकीरायभीमिलीजिससेइसबातकीपुख्ताजानकारीसामनेआई।भारतकीआजादीकेकरीबएकदशकबादइसेबनानेकीजरूरतमहसूसहुईथी।दिल्लीनगरनिगमएक्ट1957(डीएमसीएक्ट)केतहतहीइसनिगमकोबनायागयाथा।

कईसारीस्थानीयनिकायकोमिलाकरकियागयाथाएकनिगमकानिर्माण

डीएमसीएक्ट1957केअनुसारइसेपंजाबजिलाबोर्डएक्ट,1883औरपंजाबनिगमएक्ट,1911केप्रावधानोंजैसाहीबनायागयाथा।इसेचलानेकेलिएकईसारीस्थानीयनिकायथीजैसेदक्षिणीदिल्ली,पश्चिमीदिल्ली,महरौली,नरेलाऔरदिल्लीशहादराइत्यादि।अधिनियमकोपढ़नेपरयहभीजानकारीमिलीकीउपरोक्तनिकायकेअलावाभीकईसारीस्थानीयनिकायथीजैसेजिलाबोर्ड,दिल्लीबिजलीबोर्ड,दिल्लीसड़कपरिवहनप्राधिकरणऔरसीवेजबोर्ड।

संसदसेबिलपासहोनेकेबाद1958मेंअस्तित्वमेंआया

इतनीसारीअगलअलगएजेंसियोंकेकारणएकएकीकृतप्रणालीकीजरूरतमहसूसहुई।इसकेबादसंसदमेंदिल्लीनगरनिगमकेबिलकोपेशकियागया।बादमेंयहविधेयकसंसदकेदोनोंसदनोंमेंसेपासहोकर28दिसंबर,1957कोराष्ट्रपतिकेपासपेशकियागया।

तबमिलादिल्लीकोपहलामेयर

इसकेबादसातअप्रैल1958सेनगरनिगमअस्तित्वमेंआयाऔरइसकेबादफिरदिल्लीकोइसकापहलामेयरमिला।चांदनीचौककेटाउनहालमेंइसकामुख्यालयबना।यहांपरकरीब2000तककामकियागया।नईदिल्लीरेलवेस्टेशनकेसामनेसिविकसेंटरमेंइसेस्थानातंरितकरदियागया।

यहहैताजाअपडेट

दिल्लीनगरनिगमकेचुनावकीघोषणाहोनेसेपहलेहीराज्यचुनावआयोगनेइसकोकुछसमयकेलिएस्थगितकियाजिसकेबाददिल्लीकीसत्तासीनआमआदमीपार्टीनेभारतीयजनतापार्टीपरजमकरहल्लाबोला।वहींभाजपाकाकहनाहैकिदिल्लीकेतीनोंनगरनिगमकोएककरनेकेबादचुनावहोनाचाहिए।इसकेबादसंसदसेइसकोएककरनेकाबिलपासहोगया।यहभीबतादेंकिदिल्लीनगरनिगमकेचुनावहोनेहैंइसकेकारणदिल्लीकाराजनीतिकपाराचढ़ाहुआहै।बढ़तीगर्मीकेसाथहीचुनावकेनजदीकआतेहीसारेदलअपनेपक्षमेंमाहौलबनानेमेंजुटगएहैं।