अंधेरे में डूबा रहता है मुरलीडांगी व चूड़ीनाला आदिवासी टोला

-केरोसिनतेलकीआपूर्तिबंदहोनेसेग्रामीणोंकीबढ़ीपरेशानी

-टॉर्चकेसहारेकटतीलोगोंकीरात,बच्चोंकीपढ़ाईचौपट

संवादसूत्र,ठाकुरगंज(किशनगंज):ठाकुरगंजनगरपंचायतअंतर्गतवार्डनंबरतीनस्थितमुरलीडांगीवचूड़ीनालाटोलेकेसौसेअधिकपरिवारशामढ़लतेहीअंधेरेमेंडूबजातेहैं।नगरपंचायतक्षेत्रमेंअंधेरेमेंजीवनयापनकरनेकीविवशतालोगोंकीनियतिबनचुकीहै।एकतोनगरपंचायतक्षेत्रमेंकेरोसिनतेलकीआपूर्तिबंदकरदिएजानेसेलोगोंकीपरेशानीऔरभीबढ़गईहै।आदिवासीबहुलइनदोनोंटोलोंमेंबिजलीकीव्यवस्थानहींहोनासमझसेपरेहै।इससंबंधमेंप्रखंडआपूर्तिपदाधिकारीलोकेशठाकुरनेबतायाकिनगरकेउक्तदोनोंटोलोंमेंजबतकविद्युतआपूर्तिबहालनहींहोतीहै,तबतकजनआपूर्तिविभागद्वाराकेरोसिनतेलकीआपूर्तिजारीरहेगी।वहींठाकुरगंजकेसहायकविद्युतअभियंतामुकेशकुमारनेबतायाकिउक्तदोनोंटोलेमेंपोलवतारलगानेकाकार्यपूराहोचुकाहै,ट्रांसफर्मरलगानेकेबादविद्युतआपूर्तिबहालकरदीजाएगी।

स्थानीयनगरवासीपतरासहांसदा,एतवारूहांसदा,सुनीलहेम्ब्रम,रावणसोरेन,जीसुसोरेन,संझलामुर्मू,तुलोबासकी,कृष्णासोरेनवअन्यकाकहनाहैकिप्रारंभसेहीहमारेटोलेमेंबिजलीकीव्यवस्थानहींथी।परजनआपूर्तिविभागद्वाराजबसेकिरासनतेलकीआपूर्तिबंदकीगईहैतबसेहमलोगअंधेरेमेंरहरहेहैं।विद्युतआपूर्तिविभागद्वाराकुछदिनपहलेपोलवतारलगायाहैलेकिनकबतकबिजलीआएगीबतायानहींजासकता।हमलोगअंधेरेमेंअपनेपरिवारकेसाथरहनेकोविवशहैं।बिजलीकीव्यवस्थानहींरहनेसेहमारेबच्चोंकीपढ़ाई-लिखाईभीपूरीतरहचौपटहोगयाहै।हमलोगशामकोहीसोनेकेलिएचलेजातेहै।टॉर्चकेसहारेरातकासमयगुजारनापड़रहाहै।वहींवार्डनंतीनकेवार्डपार्षदरूपवतीदेवीबतातीहैंकिउक्तदोनोंटोलेमेंबिजलीकेपोलवतारलगचुकेहैं।विद्युतआपूर्तिविभागकोयथाशीघ्रबिजलीआपूर्तिकेलिएबार-बारकहाजारहाहैपरस्थितिजसकीतसहै।अगरजल्दसेजल्दइनटोलोंमेंविद्युतआपूर्तिबहालनहींकीगईतोइसकीलिखितशिकायतजिलापदाधिकारीसेजाएगी।