अधिकारों को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद आज LG से मिलेंगे केजरीवाल

नईदिल्लीः सुप्रीमकोर्टद्वारादिल्लीकेउप-राज्यपाल(एलजी)केअधिकारोंमेंकटौतीकरनेकेबादमुख्यमंत्रीअरविंदकेजरीवाल बुधवारकोएलजीअनिलबैजलसेमिलेंगे.इसबीच,तबादला-तैनातीकेकेजरीवालसरकारकेआदेशकोलेकरएकबारफिरआमआदमीपार्टी(आप)सरकारऔरनौकरशाहोंकेरिश्तोंमेंतनावकीस्थितिपैदाहोगईहै.केजरीवालनेअधिकारियोंकोचेतावनीदीहैकियदिउन्होंनेतबादलेऔरतैनातीसेजुड़ेदिल्लीसरकारकेआदेशनहींमानेतोउन्हें‘‘गंभीरपरिणाम’’भुगतनेहोंगे.

नईदिल्लीः

एकअधिकारीनेबतायाकिदिल्लीसरकारआदेशकापालनकरनेसेइनकारकरनेवालेअधिकारियोंकेखिलाफअवमाननायाचिकादायरकरनेसहितअन्यकानूनीविकल्पोंपरविचारकररहीहै.एकअन्यसरकारीअधिकारीनेबतायाकिमुख्यमंत्रीकेजरीवालऔरउप-मुख्यमंत्रीमनीषसिसोदियाकलएलजीबैजलसेमिलकरसुप्रीमकोर्टकेआदेशपरचर्चाकरेंगे.

यहभीपढ़ेंः सुप्रीमकोर्टकेफैसलेकेबादअबइसमुद्देपरकेंद्र-दिल्लीसरकारमेंखींचतान

यहभीपढ़ेंः

सुप्रीमकोर्टकेफैसलेकेबादअबइसमुद्देपरकेंद्र-दिल्लीसरकारमेंखींचतान

दिल्लीसरकारऔरकेंद्रकेबीचसत्ताकेवर्चस्वकीलड़ाईपरसुप्रीमकोर्टकेबुधवारकेआदेशकेबादमुख्यमंत्रीऔरएलजीकीयहपहलीमुलाकातहोगी.केजरीवालनेएलजीबैजलकोपत्रलिखकरकहाकि‘सेवा’सेजुड़ेमामलेमंत्रिपरिषदकेपासहैं.केजरीवालनेयहपत्रतबलिखाजबअधिकारियोंनेतबादलाऔरतैनातीकेअधिकारएलजीसेलेनेके‘आप’सरकारकेआदेशकोमाननेसेइनकारकरदिया.

सुप्रीमकोर्टकीसंविधानपीठकेउसफैसलेकेबादकेजरीवालनेयहपत्रलिखाजिसमेंएलजीकेअधिकारोंमेंखासाकटौतीकीगईहै.अब‘आप’सरकारलोककल्याणकारीयोजनाओंकेक्रियान्वयनऔरन्यायालयकेफैसलेकेबारेमेंअपनेसभीअधिकारियोंकोआदेशजारीकरनेकीतैयारीमेंहै.बैजलकोलिखेगएपत्रमेंमुख्यमंत्रीनेकहाकिअबकिसीभीमामलेमेंएलजीकीमंजूरीलेनेकीजरूरतनहींहोगी.उन्होंनेकहाकिसभीपक्षोंकोसुप्रीमकोर्टकाआदेशअक्षरश:लागूकरानेकीदिशामेंकामकरनेकीजरूरतहै.

यहभीपढ़ेंः साल2014सेचलीआरहीथीदिल्लीसरकारऔरLGकेबीचतनातनी,जानिएपूराघटनाक्रम

यहभीपढ़ेंः साल2014सेचलीआरहीथीदिल्लीसरकारऔरLGकेबीचतनातनी,जानिएपूराघटनाक्रम

सुप्रीमकोर्टकेबुधवारकेऐतिहासिकफैसलेकेकुछहीघंटेबाददिल्लीसरकारनेनौकरशाहोंकेतबादलेऔरतैनातीकेलिएएकनईव्यवस्थाशुरूकीजिसमेंमुख्यमंत्रीअरविंदकेजरीवालकोमंजूरीदेनेवालाप्राधिकारीबतायागया.बहरहाल,सेवाविभागनेइसआदेशकापालनकरनेसेइनकारकरतेहुएकहाकिसुप्रीमकोर्टनेकेंद्रीयगृहमंत्रालयकी21मई2015कीवहअधिसूचनानिरस्तनहींकीजिसकेअनुसारसेवासेजुड़ेमामलेउप-राज्यपालकेपासरखेगएहैं.

सुप्रीमकोर्टनेकलअपनेऐतिहासिकफैसलेमेंकहाथाकिएलजीनिर्वाचितसरकारकीसलाहमाननेकेलिएबाध्यहैंऔरवह‘‘बाधापैदाकरनेवाला’’नहींबनसकते.केजरीवालनेआजट्वीटकिया,‘‘सभीअधिकारियोंकोसुप्रीमकोर्टकेआदेशकासम्मानऔरपालनकरनाचाहिए.सुप्रीमकोर्टकेआदेशकेखुलेउल्लंघनसेगंभीरपरिणामभुगतनेपड़सकतेहैं.यहकिसीकेहितमेंनहींहोगा.’’

उप-मुख्यमंत्रीसिसोदियानेट्वीटकिया,‘‘सेवाविभागकेसचिवकोएकबारफिरनिर्देशदियाहैकिकलकेनिर्देशकेमुताबिकआदेशजारीकरें.अधिकारीकोसूचितकियाकिआदेशनहींमाननेपरसुप्रीमकोर्टकीअवमाननाहोसकतीहैऔरअधिकारीकोअनुशासनिककार्यवाहीकासामनाकरनापड़सकताहै.’’

यदिकेजरीवालसरकारऔरनौकरशाहीअपनेरुखपरअड़ेरहेतोसेवासेजुड़ेमामलोंकोलेकरदोनोंपक्षोंमेंएकबारफिरटकरावतयहै.सुप्रीमकोर्टकेआदेशकाहवालादेतेहुएकेजरीवालनेपत्रमेंलिखा,‘‘सेवासेजुड़ीकार्यकारीशक्तियांमंत्रिपरिषदकेपासहैं.’’उन्होंनेकहा,‘‘यहसाफहै....किकेंद्रसरकार/एलजीकोकेवलतीनविषयोंपरकार्यकारीशक्तियांप्राप्तहैं.बाकीसभीविषयोंपरकार्यकारीशक्तियांमंत्रिपरिषदकेपासहैं.’’मुख्यमंत्रीनेकहाकिशीर्षन्यायालयकेइतनेस्पष्टआदेशकेबादगृहमंत्रालयकीअधिसूचना‘‘निष्प्रभावी’’होगईहै.उन्होंनेकहाकिन्यायालयकाफैसलासुनाएजानेकेक्षणसेहीप्रभावीहोगयाहै.

एलजीकोलिखेगएपत्रमेंकेजरीवालनेकहा,‘‘दिल्लीकेविकासकेलिए,लोककल्याणकारीयोजनाएंलागूकरनेकेलिएऔरसुप्रीमकोर्टकेआदेशपरअमलकेलिएहमआपका(एलजीका)समर्थनचाहतेहैं.हमउक्तआधारपरदिल्लीसरकारकेसभीपदाधिकारियोंकोकलआदेशजारीकरनेकीयोजनाबनारहेहैं.’’उन्होंनेकहा,‘‘यदिकिसीउपरोक्तमुद्देपरआपकेविचारविपरीतहैंतोकृपयाहमेंबताएं.यदिआपचाहेंगेतोमैंखुदऔरमेरेकैबिनेटसहकर्मीचर्चाकेलिएआपकेपासआसकतेहैं.’’

(इनपुटभाषासे)