अधिकारी व कर्मचारियों को सस्ती बिजली देने के मामले में हुई सुनवाई, हाईकोर्ट ने दिए ये निर्देश

नैनीताल,जेएनएन:अधिकारीवकर्मचारियोंकोसस्तीबिजलीदेनेऔरआमजनतापरबिलकाबोझडालनेकेखिलाफदायरजनहितयाचिकापरहाईकोर्टमेंसुनवाईहुई।कोर्टमेंएमडीपाॅवरकॉर्पोरेशनकीतरफसेशपथपत्रपेशकियागया।जिसमेंकहागयाकिकोर्टकेआदेशकेबादकुछकर्मचारियोंनेमीटरलगालिएहैं।जिसकाविरोधकरतेहुएयाचीकाकर्ताकेअधिवक्ताद्वाराकोर्टकोबतायागयाकिअभीतककुछहीकर्मचारियोंकेवहामीटरलगाएगएहैंऔरएमडीनेकोर्टकेआदेशकापालननहींकियाहै।कर्मचारियोंकोनवम्बरमाहकावेतनदेदियाहै।कोर्टनेइसपरपाॅवरकाॅरपोरेशनसेकलसातजनवरीकोस्थितिसाफकरनेकोकहाहै।पिछलीतिथिकोएमडीनेकोर्टमेंकहाथाकिवेएकमाहकेभीतरसभीकेयहांमीटरलगवादेंगे।उन्होंनेयेभीमानाहैकिनिगममेंअनियमितताकीगईहै।

मुख्यन्यायधीशन्यायमूर्तिरमेशरंगनाथनवन्यायमूर्तिआलोककुमारवर्माकीखंडपीठमेंदेहरादूनआरटीआईक्लबकीजनहितयाचिकापरसुनवाईहुई।जिसमेंकहाकि ऊर्जानिगमअधिकारियोंसेएकमहीनेकाबिलमात्र400से500रुपएएवंअन्यकर्मचारियोंसेसौरुपएलेरहीहैजबकिइनकाबिललाखोमेंआताहै।जिसकाबोझसीधेजनतापरपड़रहाहै।याचिकाकर्ताकाकहनाहैकिप्रदेशमेंकईअधिकारियोंकेघरबिजलीकेमीटरतकनहींलगेहैंजोलगेभीहैवेखराबस्थितिमेंहैं।उदारहणकेतौरपरजनरलमैनेजरका25माहकाबिजलीकाबिल4लाख20हजारआयाथाऔरउसकेविजलीकेमीटरकीरीडिंग2005से2016तकनहीलीगयी।

वहींकोर्पोरेशननेवर्तमानकर्मचारियोंकेअलावारिटायरकर्मचारियोंवउनकेआश्रितोंकोभीबिजलीरियायतीदाममेंदीहैजिसकासीधाभारआमजनताकीजेबपरपड़रहाहै।याचिकाकर्ताकाकहनाहैकिउत्तराखंडऊर्जाप्रदेशघोषितहैलेकिनयहांहिमांचलसेमंहगीबिजलीहै।घरोंमेंलगेमीटरोंकाकिरायापावरकारपोरेशनकबकावसूलकरचुकाहैपरन्तुहरमाहकेबिलकेसाथजुड़करआताहै।जोगलतहैजबकिउपभोक्ताउसकेकिरायाकबकादेचुकाहै।

यहभीपढ़ें:हाईकोर्टकाआदेशइकबालपुरचीनीमिलकीजब्‍तचीनीहोगीनीलाम,किसनोंकाहोगाभुगतान

यहभीपढ़ें:भ्रष्‍टाचारमामलेमेंअल्मोड़ाकीपूर्वपालिकाध्यक्षशोभाजोशीसमेतछहकेखिलाफमुकदमा